अंकारा: पिछले सप्ताह पूर्वी तुर्की में आए 6.5 तीव्रता के भूकंप के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 36 हो गई है, जबकि 1,607 लोग घायल हुए हैं. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, आपदा और आपातकालीन प्रबंधन प्राधिकरण (एएफएडी) ने रविवार को कहा कि कुल 45 लोगों को मलबे से बचाया गया और तलाशी व बचाव अभियान अभी भी जारी है.

एएफएडी के अनुसार, भूकंप एलाजिग प्रांत में 24 जनवरी को सुबह 8.55 बजे 6.75 किमी की गहराई पर आया था और उसके बाद कम तीव्रता वाले भूकंप के 788 हल्के झटके आए थे. एएफएडी के अनुसार, विशेषज्ञों द्वारा किए गए एलाजिग और पास के मालट्या प्रांत के कुल 1,521 निर्माणों के विश्लेषण से पता चला है कि कम से कम 76 इमारतें पूरी तरह से नष्ट हो गई हैं और 645 अन्य गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गईं.

इससे पहले, राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने कहा कि ज्यादातर नुकसान एलाजिग के गांवों में हुआ है. उन्होंने पत्रकारों से कहा, "हम वहां नुकसान की गुंजाइश का पता लगाएंगे और जल्द ही निर्माण कार्यो को शुरू करेंगे." एएफएडी के बयान में यह भी कहा गया है कि परिवारों के लिए करीब 10,000 टेंट क्षेत्र में भेजे गए थे, और उनमें से 4,200 से अधिक पहले से ही लगाए गए थे. एजेंसी ने अपनी वेबसाइट पर उन नागरिकों के लिए बैंक विवरण भी साझा किए हैं जो भूकंप से बचे लोगों के लिए धन देना चाहते हैं.