नई दिल्ली : नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने दिल्ली के इंदिरा गांधी नेशनल एयरपोर्ट पर तीन अफगान नागरिकों को गिरफ्तार किया. ये तीनों अफगानिस्तान के कंधार से दिल्ली अपने पेट में हेरोइन छुपा कर लाए थे. हॉस्पिटल में अफगानी नागरिकों के पेट का ऑपरेशन करने के बाद 1.8 किलो ग्राम हेरोइन बरामद की गई, जिसकी कीमत इंटरनेशनल मार्केट में करीब 30 करोड़ रुपए तक हो सकती है.

इसके अलावा नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट ने गिरफ्तार अफगानी नागरिकों से पूछताछ करके एक अफगानी और नाइजीरिया के 2 नागरिकों को गिरफ्तार कर करीब साढ़े 6 किलो ग्राम हेरोइन बरामद की, दोनों नाइजीरियाई नागरिक भारत में रहकर हेरोइन स्मगलिंग का रैकेट चला रहे थे. नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट को इंटेलिजेंस से अफगानिस्तान से दिल्ली बड़ी मात्रा में हेरोइन की खेप स्मगलिंग होकर आने की जानकारी मिली. जिसके बाद से ही नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट ड्रग्स स्मगलरों को पकड़ने के लिए अलर्ट हो गया.

एयरपोर्ट पर नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट ने एक अफगानी आदमी पर शक होने पर उसे पकड़ा और पूछताछ करने लगी कि तभी दो और अफगानी नागरिक एयरपोर्ट से बाहर निकल की कोशिश में थे, जिनके चलने का ढंग कुछ अलग था, एनसीबी की टीम ने उन दोनों को भी पकड़ा और पूछताछ की और तालाशी ली. लेकिन तीनों अफगानी नागरिकों की तालाशी लेने पर कुछ नहीं मिला.

एनसीबी की टीम ने इसके बाद शक के आधार पर तीनों की मेडिकल जांच की तो पता चला कि तीनों अफगानी नागरिकों ने अपने पेट के अंदर कुछ समान छिपा रखा था. जिसके बाद हॉस्पिटल में तीनों अफगानी नागरिकों के पेट का ऑपरेशन करके 253 पैलेट में से 1.8 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई.

नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट ने अफगानी नागरिकों से दोबारा पूछताछ करके एक और अफगानी नागरिक को गिरफ्तार किया है, जो आदमी उन तीनों से दिल्ली में हेरोइन रिसीव करने वाला था. नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट ने एक बार फिर से अफगानी नागरिकों से पूछताछ की तो 2 और नाइजीरिया के नागरिकों का पता चला. इस पर नार्कोटिक्स डिपार्टमेंट ने तुरंत एक्शन लेकर दिल्ली के वसंत विहार और उत्तम नगर में छापा मारकर 2 नाइजीरिया के नागरिकों को गिरफ़्तार किया. जिसमें एनसीबी ने वसंत विहार से करीब 6 किलो ग्राम और उत्तम नगर से 488 ग्राम हेरोइन बरामद की.

एनसीबी के सीनियर अधिकारी ने बताया कि हमारी टीम ने लगातार निगरानी और जांच पड़ताल करके अफ़गानिस्तान से स्मगल होने वाली हेरोइन के इंटरनेशनल नेटवर्क का भंडाफोड़ किया, जो हमने हेरोइन बरामद की है उसकी कीमत इंटरनेशनल मार्केट में करीब 30 करोड़ रुपए है. जिसको नाइजीरिया के ड्रग्स स्मगलर  चला रहे थे. अफ़गानिस्तान से भारत में हेरोइन केवल भारत में बेचने के लिए ही नहीं बल्कि दूर के और दूसरे देशों में भी स्मगलिंग करने के लिए लाई जाती है. हमारी टीम अब भी गिरफ़्तार किए गए विदेशी स्मगलरों से पूछताछ करके उनके और साथियों का पता लगाने की कोशिश में जुटी है.