नई दिल्लीः आजकल लोगों के पास क्रेडिट कार्ड होता ही है, खासतौर पर नौकरीपेशा वर्ग, बिजनेस क्लास और व्यापारी वर्ग समेत स्टूडेंट्स के पास भी क्रेडिट कार्ड होता ही है. कई बार लोगों के पास एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड होते हैं और इसको लेकर उन्हें संशय भी रहता है कि वो एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड रखें या नहीं. कई कंपनियां आकर्षक ऑफर्स देती हैं और इसके लालच में लोग क्रेडिट कार्ड ले लेते हैं. हालांकि आर्थिक जानकारों का कहना है कि एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड लेने में कोई दिक्कत नहीं हैं बशर्ते आप इसका मैनैजमेंट ठीक तरीके से कर सकें. यहां हम आपको बताएंगे कि एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड लेने की सूरत में आपको कौन सी बातों का ध्यान रखना चाहिए.

इंटरेस्ट फ्री पीरियड
क्रेडिट कार्ड से कुछ खरीदने पर बिलिंग साइकिल का ध्यान रखना होता है क्योंकि इसके जरिए आपके बिलिंग साइकिल के दौरान ब्याज मुक्त यानी इंटरेस्ट फ्री खरीदारी करने का ऑप्शन मिलता है. बता दें कि बिलिंग साइकिल के पहले दिन से इंटरेस्ट फ्री पीरियड शुरू होता है और बिलिंग साइकिल खत्म होने के 15 से 20 दिन के बाद खत्म होता है. उदाहरण के लिए आपका बिलिंग साइकिल 15 तारीख से शुरू होता है तो अगले महीने की 14 तारीख तक बिलिंग साइकिल होगी और इसके बाद 20 दिन आपको खरीदी गई चीज का भुगतान करने के लिए मिलेंगे.

एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड होने पर लें लंबी इंटरेस्ट फ्री पीरियड का फायदा
आपके पास एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड हैं तो आप खरीदारी की प्लानिंग इस तरह से करें कि ज्यादा से ज्यादा इंटरेस्ट फ्री पीरियड का फायदा आपको मिल सके. उदाहरण के लिए दो क्रेडिट कार्ड हैं तो उनके बिलिंग साइकिल की शुरुआत में खरीदारी कर लें जिससे आपको ज्यादा दिनों तक इस बिल को चुकाने का मौका मिले.

लाइफ इंश्योरेंस करवाने के बाद इन बातों पर जरूर दें ध्यान!
ज्यादा क्रेडिट कार्ड होने पर बिल पेमेंट की तारीख का रखें ध्यान
ज्यादा क्रेडिट कार्ड हैं तो इनके बिल पेमेंट की तारीख का ध्यान रखना बेहद जरूरी होगा वर्ना आपको भारी पेनल्टी देनी पड़ सकती है. दो क्रेडिट कार्ड का समय से पेमेंट नहीं करेंगे तो दो कार्ड पर पेनल्टी और इंटरेस्ट देना होगा.

ज्यादा समय तक बिल पेमेंट टालने से क्रेडिट स्कोर खराब हो सकता है
बिल पेमेंट को टालते रहने, बार-बार डिले करने से आपका क्रेडिट स्कोर या सिबिल स्कोर खराब हो सकता है जिसकी वजह से आपको लोन मिलने में दिक्कत हो सकती है. लोन लेने में सिबिल स्कोर की भूमिका बेहद बड़ी होती है और इसकी स्थिति खराब हो तो आपको लोन मिलना संभव नहीं होगा.

यहां बताई गई बातों को ध्यान रखेंगे तो एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड होने पर भी आपको आर्थिक परेशानी नहीं होगी और आप इनका मैनेजमेंट ठीक तरीके से कर पाएंगे.