ग्वालियर: पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने शहर के थाटीपुर  थाना क्षेत्र के स्कूल, कॉलेज, कोचिंग और मार्केट से दो पहिया वाहन चुराने वाले एक शातिर गिरोह का पर्दाफ़ाश किया है। चोर वाहन चुरा कर कुछ लोगों को बेच देते थे और कुछ दिन गायब हो जाते थे। पुलिस ने एक मैकेनिक को भी पकड़ा है जिसने चोरी की गाड़ी का इंजन अपने ग्राहक की गाड़ी में चुपचाप लगा दिया। पुलिस ने आरोपियों के। कब्जे से 11 मोटर साइकिल बरामद की हैं। गिरफ्तार बदमाशों में एक भीम आर्मी का पदाधिकारी भी है इसके कब्जे से दो मोटरसाइकिल मिली हैं। टी आई शैलेंद्र भार्गव के मुताबिक लगातार हो रही वाहन चोरी के बाद हमने मुखबिर सक्रिय किए थे जिसके बाद पता चला कि कुछ लोग दुल्लपुर के पास बहुत सस्ते में मोटर साइकिल बेच रहा है। जिसके बाद उसे घेराबंदी उन्हें पकड़ लिया। उसके बाद उनके अन्य साथी भी पकड़े गए। टी आई ने बताया कि चार चोर लोकेंद्र जाटव, अरविंद जाटव, मनीष जाटव निवासी हुरावली और हीरेंद्र जाटव निवासी पिछोर डबरा गिरफ्तार किए गए हैं जबकि  वाहन खरीदार गोहद जिला भिंड निवासी रवि मौर्य, परवेंद्र घोरपडे, प्रशांत गुप्ता और गफूर अली निवासी डबरा गिरफ्तार किए गए हैं जिनमें गफूर मैकेनिक है । जिसने एक ग्राहक कि गाड़ी में उसका ओरिजनल इंजन निकालकर चोरी कि गाड़ी का इंजन लगा दिया था। चोरों के पास से मास्टर चाबी के अलावा दूसरे औजार बरामद किए गए हैं। गिरोह के दो अन्य सदस्य आकाश और रविंद्र अभी फरार हैं पुलिस को उम्मीद है कि इन दोनों की गिरफ्तारी के बाद चोरी के और वाहन बरामद होंगे ।