कोरोना की खबरों को किस तरह पेश किया जाय ये हुनर अपन को अभि तक नहीं आ पाया एक झटके में पाठक को भोपाल, इंदौर वगेरह का पिक्चर क्लीयर हो जाय ऐसा यहां  कुछ नहीं है। अब ढूंढ़ते रहिए आप भोपाल को। इसके बरक्स भर्ती खाते की सरकारी खबरें यहां बिखती पड़ी हैं।लाकडाउन के दरमियान शहर के हालात बयां करती खबरें उम्दा सेट हुई। आटा, तेल के दाम दोगुने होने वालीन खबर  भेतरीन आई। लोगों की हिफाजत के लिए रात दिन ड्यूटी कर रहे डॉक्टर और नर्सों वाली खबर हर लिहा से मुकम्मल रही।