कमलनाथ-बाबरिया में हो चुकी चर्चा, हर गुट के नेताओं को साधने की तैयारी
रासं, भोपाल। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं प्रदेश के दिग्गज कांग्रेस नेताओं में शुमार ज्योतिरादित्य सिंधिया के भोपाल दौर के बाद निगम-मंडलों में राजनीतिक नियुक्तियों के आसार बन रहे हैं। दरअसल राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ और प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी दीपक बाबरिया के बीच तीन दौर की चर्चा हो चुकी है। अब सिंधिया की कुछ नामों पर सहमति लेना है।

सूत्रों की मानी जाए तो 18 और 19 जनवरी को भोपाल में सिंधिया का दौरा निगम-मंडल और आयोगों में नियुक्तियों को लेकर भी अहम माना जा रहा है। कमलनाथ सरकार हर गुट को पद देने की तैयारी में है। इसके लिए संगठन से लेकर कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के बीच अब अंतिम फैसला होना है। संगठन की ओर से दीपक बाबरिया ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को नाम दे दिए हैं। इन नामों में यह विशेष ध्यान रखा गया है कि जिनके नाम संगठन से गए हैं, वे भाजपा के खिलाफ हमेशा लड़ने वाले और कांग्रेस के लिए संघर्ष करने वाले ही है। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव भी अपने समर्थक नेताओं के नाम कमलनाथ तक पहुंचा चुके हैं। अब सिंधिया का दौरान अहम माना जा रहा है। इस दिन वे प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में बैठेंगे, साथ ही अपने से जुड़े नेताओं को निगम-मंडल में एडजस्ट करवाने के लिए कुछ नाम वे मुख्यमंत्री के पास तक पहुंचवा सकते हैं।

रखना होगा यह ध्यान: राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर कांग्रेस पर लगातार बैक डोर से एंट्री लेने वालों को महत्व देने के आरोप लग रहे हैं। इस बार यह आरोप न लगे और पार्टी के वफादार नेताओं को ही मौका मिले, इसके लिए मुख्यमंत्री के साथ दीपक बाबरिया महत्वपूर्ण अंतिम समय में बैठक कर सकते हैं। इसमें हर नेता के बैकग्राउंड को देखा जाएगा।

इसके बाद कुछ नेताओं को नियुक्तियां दे दी जाएगी। यह पूरी कवायद जनवरी में ही होने की सुगबुगाहट है।