भोपाल, ब्यूरो। जबलपुर के गैरीसन ग्राउंड में हुई बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की जनसभा में उमड़ी भीड़ ने भाजपा में उत्साह भरा है। इस ग्राउंड में अब तक हुई सभाओं में यह सबसे अधिक भीड़ बताई जा रही है। इस मैदान पर उमड़ी लाखों लोगों की भीड़ के लिए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह की रणनीति को वजह बताया जा रहा है। नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में हुई इस जनसभा के बाद भाजपा अब कांग्रेस सरकार पर और हमलावर होगी। जल्द ही कुछ और शहरों में सभा करने का प्लान भी भाजपा ने बनाना शुरू कर दिया है। इसके लिए आज भोपाल में बैठक बुलाकर रणनीति बनाई जाएगी। सीएए के समर्थन में भाजपा ने 15 जनवरी तक पूरे प्रदेश में जागरुकता कार्यक्रम और गोष्ठियां आयोजित करने का फैसला लिया है। इसी परिप्रेक्ष्य जबलपुर में रविवार को शाह की सभा होनी थी। इस सभा को सफल बनाने के लिए प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने हर मंडल और वार्डों में विचार गोष्ठी कराई और भाजयुमो कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी पदाधिकारियों को भेजकर लोगों को सभा के लिए आमंत्रण भेजा। वे खुद सभा की सफलता और लोगों को सीएए के प्रति जागरुक करने के लिए पूरी व्यवस्था की मानटरिंग करते रहे। इसका नतीजा एक लाख से अधिक लोगों की भीड़ सभा स्थल पर आना रहा। आगामी कार्ययोजना को लेकर आज प्रदेश भाजपा कार्यालय में पदाधिकारियों की बैठक में अब तक के प्रदर्शन की समीक्षा के साथ रणनीति बनाई जाएगी।

सभा स्थल को जबलपुर के स्थानीय लोगों की स्मृतियों से जोड़ने का बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह का फार्मूला भी असरकारी रहा। जहां सभा होना थी, उस परिसर का नाम विवेकानंद परिसर रखा गया। जनसमर्थन सभा में सात प्रवेश द्वारों से लोगों के आने जाने की व्यवस्था रही। इनके नाम गिरिराज किशोर कपूर द्वार, सुभाषचन्द्र बैनर्जी द्वार, मनोहर राव सहस्त्रबुद्धे द्वार, बाबूराव परांजपे द्वार, ईश्वरदास रोहाणी द्वार, शिवप्रसाद चनपुरिया द्वार, ओमकार प्रसाद तिवारी द्वार रखे गए।