नई दिल्ली: टी20 और वनडे सीरीज में दो-दो हाथ करने के बाद भारत और न्यूजीलैंड की टीमें अब टेस्ट सीरीज की तैयारी में जुट गई हैं. इस सीरीज से पहले भारतीय क्रिकेटर अभ्यास मैच खेल रहे हैं. इंडियंस (Indians) के नाम से उतरी भारतीय टीम शुक्रवार को अभ्यास मैच के पहले ही दिन 263 रन ही बना सकी. उसके चार खिलाड़ी खाता भी नहीं खोल सके. हालांकि, अच्छी बात यह रही कि टेस्ट मैचों के स्पेशलिस्ट माने जाने वाले चेतेश्वर पुजारा और हनुमा विहारी ने लंबी पारियां खेलीं. भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट मैच 21 फरवरी से खेला जाना है.

भारतीय टीम (Indians) ने न्यूजीलैंड XI के खिलाफ शुक्रवार को टॉस जीतकर पहले बैटिंग की. उसकी शुरुआत खराब रही. ओपनर पृथ्वी शॉ और खाता भी नहीं खोल सके. मयंक अग्रवाल एक रन बनाकर आउट हुए. चौथे नंबर पर खेलने आए शुभमन गिल (0) भी एक गेंद खेलकर पैवेलियन लौट गए. इस तरह भारतीय टीम ने पांच रन के भीतर तीन विकेट गंवा दिए. पांचवें नंबर पर बैटिंग करने आए अजिंक्य रहाणे (18) भी जल्दी आउट हो गए.

भारतीय टीम ने चौथा विकेट 38 के स्कोर पर गंवाया. इसके बाद चेतेश्वर पुजारा (92) और हनुमा विहारी (101) क्रीज पर डट गए. इन दोनों ने 195 रन की साझेदारी कर टीम को संकट से उबार लिया. जब टीम मजबूत स्कोर की ओर बढ़ रही थी, तब पुजारा नर्वस नाइंटीज का शिकार होकर पैवेलियन लौट गए. पुजारा के आउट होते ही एक बार फिर भारतीय पारी लड़खड़ा गई. अगले 30 रन बनाते-बनाते सभी बल्लेबाज पैवेलियन लौट गए.

अभ्यास मैच में दोनों ओपनरों पृथ्वी शॉ, मयंक अग्रवाल और शुभमन गिल की नाकामी भारतीय टीम की चिंता बढ़ सकती है. टेस्ट मैच में मयंक अग्रवाल के साथ पृथ्वी या शुभमन ओपनिंग की जिम्मेदारी संभाल सकते हैं. पृथ्वी अभ्यास मैच की पहली पारी में सिर्फ चार गेंद खेल सके. गिल एक रन बनाकर ही आउट हो गए