इंदौर: बेहतरीन स्वास्थ्य सेवाओं के बावजूद इटली (Italy) कोरोना वायरस से तबाह हो गया है. इंदौर का एक छात्र  इस समय इटली की राजधानी में पढ़ाई कर रहा है. वो मजह इसलिए अपने देश नहीं लौटा ताकि उसकी वजह से भारत में कोई संक्रमित न हो जाए. इस छात्र ने सभी भारतीयों से अपील की है कि वो घरों से न निकलें. वरना पूरा भारत तबाह हो जाएगा.

भारत के इंदौर शहर का एक छात्र अनंत शुक्ला इस समय इटली की राजधानी रोम में है. अनंत के पिता हरिशंकर शुक्ला ने कहा कि उन्होंने बेटे से बहुत कहा कि वह घर लौट आए. लेकिन अनंत ने भारत आने से मना कर दिया. वह सिर्फ इसलिए स्वदेश अपने परिवार के पास नहीं आया ताकि उसके कारण भारत में लोग बीमार न पड़ें, और महामारी की चपेट में न आएं.

छात्र अनंत शुक्ला ने भारत के लोगों से आपसे हाथ जोड़कर विनती की है कि अपने और अपने परिजनों की खातिर घर से न निकलें. वरना पूरा भारत तबाह हो जयाएगा. यही देश सेवा है.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से हाथ जोड़कर अपील की थी कि 21 दिन तक घरों से न निकलें. बावजूद इसके लोग अपने घरों से निकल रहे हैं. ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस काफी सख्ती भी बरत रही है लेकिन जब तक जनता खुद जागरूक नहीं होगी तक तक लॉकडाउन को सफल नहीं बनाया जा सकता.