रायपुर : मध्य प्रदेश के मंत्री के बाद अब छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री कवासी लखमा ने विवादित बयान दिया है. धमतरी जिले के कुरूद में मंगलवार को पट्टा वितरण के लिए आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए लखमा ने अपने विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र कोंटा की सड़कों की तुलना हेमा मालिनी के गाल से कर दी. उन्होंने कहा कि हमारे क्षेत्र की सड़कें हेमा मालिनी के गाल की तरह चिकनी हैं.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार धमतरी के प्रभारी मंत्री लखमा ने कहा कि प्रदेश में मंत्री बने मुझे अभी कुछ ही महीने हुए. नक्सल प्रभावित क्षेत्र से आता हूं, लेकिन मैंने वहां सड़कें बनवाईं. हेमा मालिनी के गालों जैसी. अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाले मंत्री लखमा ने कुरूद में सड़कों की हालत पर दुख भी जताया और इसके लिए पूर्ववर्ती डॉक्टर रमन सिंह सरकार पर निशाना भी साधा.

उन्होंने कहा कि कुरूद की सड़कों पर पिछली सरकार के भ्रष्टाचार के गड्ढे हैं. लखमा ने कहा कि कुरूद की सड़कों की इस हालत के लिए पूर्व विधायक जिम्मेदार हैं. उनकी बेरूखी की वजह से क्षेत्र की सड़क गड्ढ़ों में तब्दील हो गई है. भूपेश बघेल सरकार के मंत्री की ओर से पार्टी की सांसद को लेकर दिए गए बयान पर विपक्षी भारतीय जनता पार्टी ने भी पलटवार किया. भाजपा नेता और कुरूद नगर पंचायत के अध्यक्ष रविकांत चंद्राकर ने इसे कांग्रेस का संस्कार बताया.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने प्रधानमंत्री का अपमान करने में भी नहीं झिझकती. वह कांग्रेस किसी महिला सांसद का सम्मान क्या करेगी. चंद्राकर ने कहा कि यह कांग्रेस के संस्कार हैं जो ऐसे बयानों के रूप में सामने आ रहे हैं.