वास्तुशास्त्र के अनुसार हमारे आस-पास की सभी चीजों का हम पर गहरा प्रभाव पड़ता हैं। ये हम पर अपना पॉजिटीव और नेगेटिव प्रभाव डालते है। वास्तुशास्त्र का जीवन के हर क्षेत्र में लागू होने के कारण इसका विवाह से भी गहरा संबंध होता हैं। जैसे कि किसी के विवाह में अड़चनों का पड़ना वास्तुदोष हो सकता है।

ऐसे में इन 5 चीजोें को ध्यान रख कर आप अपनी परेशानी का हल पा सकते हैं। जो इस प्रकार हैं...
दक्षिण और दक्षिण पश्चिम दिशा में न सोएं
जिन लड़कियों की शादी होने में बाधा पड़ रही हो। उन्हें दक्षिण और दक्षिण पश्चिम दिशा में नहीं सोना चाहिए।

काले रंग से बनाएं दूरी
अक्सर लड़कियों को काले रंग के कपड़े या चीजें ज्यादा पसंद होती हैं पर वास्तुशास्त्र के अनुसार इनका अधिक मात्रा में प्रयोग विवाह में बाधा डालने का काम करता हैं। ऐसे में जितना हो सके काले रंग के कपड़ों या चीजों से दूर रहें।

बीम वाली जगह न सोना
घर पर बीम वाली जगह पर कुंवारी या विवाह योग्य लड़कियों को नहीं सोना चाहिए। वास्तुशास्त्र के मुताबिक ऐसी जगह पर सोने से इन्हें विवाह होने में अड़चनों का सामना करना पड़ सकता हैं।

अंधेरे में सोने से रखें परहेज
जिन लड़कियों की उम्र शादी के योग्य हैं उन्हें अंधेरा करके या डार्क रूम में नहीं सोना चाहिए। उन्हें ऐसे कमरों में सोना चाहिए जहां रोशनी और हवा अच्छे से मिल सके।

कमरों के रंग का रखें ध्यान
विवाह योग्य लड़कियों के कमरों का रंग ज्यादा डार्क नहीं होना चाहिए। उन्हें अपने कमरों का रंग गहरे की जगह हल्का रखना चाहिए। आप चाहे तो चमकीला, पीला, गुलाबी रंग दीवारों पर करवा सकते है। ये आपके लिए शुभ भी साबित होंगे।