नई दिल्ली: दिल्ली अग्निकांड में मारे गए लोगों को राज्यसभा में श्रद्धांजलि दी गई. राज्यसभा में मौन रखा गया. बता दें दिल्ली के रानी झांसी रोड स्थित अनाज मंडी  इलाके में एक चार मंजिला इमारत में रविवार को लगी भीषण आग में 43 लोगों की मौत हो गई थी. इस हादसे में  60 से ज्यादा लोगों की जान बचा ली गई.

राज्यसभा में बोलते हुए विजय गोयल ने कहा उपहार कांड से हमने कुछ नहीं सीखा. उन्होंने कहा हमें मिलजुलकर काम करना होगा. गोयल ने कहा कि चांदनी चौक की ज्यादतर इमारते खतरनाक हैं.

इमारत स्थित फैक्टरी में रविवार की सुबह करीब 4.30-5 बजे के आस पास आग लगी, जब वहां काम करने वाले मजदूर सो रहे थे। अग्निशमन विभाग ने बताया कि बाजार में आग लगने की सूचना उसे सुबह करीब 5.22 पर मिली, जिसके बाद दमकल की 25 गाड़ियां मौके पर पहुंचीं। आग लगने की सही वजह का पता नहीं चल पाया है, लेकिन अधिकारियों का कहना है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी होगी।

दिल्ली अग्निशमन विभाग के प्रमुख अतुल गर्ग ने कहा कि आग बैग बनाने वाली एक फैक्टरी में लगी जिसकी चपेट में पास स्थित दो इमारत भी आ गई। एक चश्मदीद ने बताया कि आग पहली मंजिल में लगी थी, इसलिए दूसरी मंजिल के लोग भी नहीं निकल पाए।