इंदौर : इंदौर में अवैध निर्माण के खिलाफ ऑपरेशन क्लीन जारी है. इसके तहत शुक्रवार को न्याय नगर एक्सटेंशन में 3 मंजिला मकान चंद सेकंड में ढहा दिया गया. यह मकान सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करके बनाया गया था. नगर निगम के अमले ने विस्फोटक का इस्तेमाल कर महज 10 सेकंड में इस इमारत को धूल में मिला दिया. स्थानीय लोगों के विरोध की आशंका में पूरे इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था.

इंदौर के न्याय नगर में बनी इस तीन मंज़िला इमारत को ढहाने की तैयारी पहले से थी. नगर निगम का अमला शुक्रवार सुबह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचा और मकान ढहाने की कार्रवाई शुरू की. जाने-माने ब्लास्ट एक्सपर्ट शरद सरवटे की मदद से मकान में विस्फोटक लगाए गए और पूरी इमारत को उड़ा दिया गया. महज 10 सेकंड भी नहीं लगे और पूरी इमारत को जमींदोज कर दिया गया. 3 मंजिला मकान देखते ही देखते भर-भराकर मलबे में तब्दील हो गया.

मकान का मालिक बाबूलाल गौर नाम का शख्स है, जिसने शासकीय ज़मीन पर कब्ज़ा कर उस पर आलीशान मकान बनवा लिया था. बाबूलाल ने न तो निर्माण की अनुमति ली थी और न ही मकान का नक्शा नियमों के मुताबिक बनवाया था. निगम को जब अवैध निर्माण की खबर मिली तो निगम अमले ने पहले मकान पर नोटिस चस्पा किया था. नोटिस का जवाब न मिलने पर निगम ने कार्रवाई का फैसला किया. पूरे मध्य प्रदेश में भू-माफिया के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है. इंदौर में भी अवैध निर्माण ढहाए जा रहे हैं.