नई दिल्ली : देशभर में रविवार को 71वां गणतंत्र दिवस मनाया गया. राजपथ पर देश की एकता, शौर्य और पराक्रम का प्रदर्शन किया गया. आकाश में वायुसेना के करतबों से लेकर जमीन पर देश के अलग-अलग हिस्सों की झांकियां पेश की गईं. इस मौके पर ऋषि कपूर ने ऐसी बात बोल दी कि ट्रोल हो गए.

ऋषि ने ट्वीट करके अपने फैंस को 71वें गणतंत्र दिवस की बधाई की. साथ ही भारत सरकार से बेहद खास अनुरोध भी किया. उन्होंने लिखा कि मैं भारत सरकार से अगले साल से इंडियन फिल्म इंडस्ट्री (पूरी दुनिया में सबसे बड़ी) के लोगों की एक झांकी दिखाने का अनुरोध करता हूं. सभी कलाकार इस परेड और मार्च का हिस्सा होंगे. दुनिया को हमारा सहयोग भी दिखना चाहिए. हम सभी को इस पर गर्व होगा, जय हिन्द! बेशक, ऋषि ने अपनी इच्छा व्यक्त की थी. इसे मानना या ना मानना सरकार के हाथ में है, लेकिन लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया.

एक यूजर ने लिखा कि लगभग सारा बॉलीवुड तो भारतीय सभ्यता और भारतीय एकता को नष्ट करने में जुटा पड़ा है और ख्वाब देखें जनाब के. एक ने लिखा कि कोई जरूरी नहीं, हमें अनुराग कश्यप जैसों को नहीं देखना है. एक ने लिखा आपकी फैमिली में तैमूर के माता-पिता भी हैं. एक ने लिखा आपका विचार तो अच्छा है, लेकिन ये कैसे संभव है जब आधी से अधिक फिल्म इंडस्ट्री देश विरोधी तत्वों की समर्थक हैं.

हर्ष नाम के यूजर ने लिखा कि सर आपने बहुत सही कहा पर आपके बॉलीवुड के महेश भट्ट और जावेद अख्तर को भी थोड़ा ज्ञान दीजिए वो तो इसमें भी राजनीतिक एजेंडा खोज लेंगे. आलोक मिश्रा नाम के यूजर ने लिखा कि आइडिया तो अच्छा है, पर पैदल 10 किलोमीटर चल पाएंगे सब स्टार. एक ने लिखा कि पैसों के लिए भारत की बर्बादी के नारे लगाने वालों के साथ खड़े होने वाले, PR कंपनियों की कठपुतलियों को ऐसे कार्यक्रमों से दूर रखना चाहिए. बिकाऊ लोग कभी भी कहीं भी घातक हो सकते है.

वर्कफ्रंट की बात करें तो कुछ ही दिन पहले उनकी फिल्म 'द बॉडी' रिलीज हुई है. इसमें उनके साथ इमरान हाशमी थे. यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई. हाल ही में वह अमेरिका से इलाज करवाकर लौटे हैं. उन्होंने बॉलीवुड में बाल कलाकार के रूप में 'मेरा नाम जोकर' से कदम रखा था. हीरो के रूप में पहचान उन्हें फिल्म 'बॉबी' से मिली थी.