आज साब राष्ट्रीय प्रेस दिवस है। ये हर बरस 16 दिसंबर को मनाया जाता है। ये दिन हिन्दुस्तान में एक आजाद और जिम्मेदार प्रेस की मौजूदगी का प्रतीक भी है। हमारे मुल्क में प्रेस को वॉच डॉग और प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया को मोरल वॉच डॉग कहा गया है। ये दिन प्रेस की आजादी और जिम्मेदारियों की तरफ भी हमारा ध्यान खींचता है। हमारी प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने 16 नवंबर 1966 को बाकायदा अपना काम शुरु किया था। तभी से इस दिन को राष्ट्रीय प्रेस दिवस के तौर पे मनाया जाता है। ये बात और हेगी के भोत कम पत्रकार संगठन इस दिन को याद रखते हैं। बाकी भोपाल के युवा पत्रकार संघ ने इसे याद रखा और आज एक परिचर्चा नाइन मसाला रेस्टोरेंट के कान्फे्रंस हॉल में मुनक्किद की है। दोपहर 3 से 5 बजे के बीच वहां पत्रकारिता की चुनौतियां एवं समाधान विषय पर बात होगी। यहां सीनियर जर्नलिस्ट शरद द्विवेदी, मृगेंद्र सिंह, रोजगार निर्माण के संपादक पीपी सिंह, शशिकांत त्रिवेदी और सरमन नगेले अपनी बात कहेंगे। पिरोगराम में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा और एमसीयू के वीसी दीपक तिवारी भी मौजूद रहेंगे। क्लब के प्रेसीडेंट हृदेश धारवार, दिनेश शुक्ला और पंकज द्विवेदी ने तमाम पत्रकारों से इस चर्चा में शिरकत की अपील करी है।