अपने सूबे में भोत जल्दी जर्नलिस्ट प्रोटेक्शन एक्ट लागू हो सकता है। बीते दिनों दो पत्रकार संगठनों के दिवाली मिलन पिरोगराम में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने फिर कहा कि जर्नलिस्ट प्रोटेक्शन एक्ट का मसौदा तैयार हो रहा है। बकौल पीसी भाई कांग्रेस अपने वचन पत्र के मुताबिक पत्रकारों के हक में फैसले ले रही है। इसमें पेंशन दस हजार रुपए कर दी गई है। वहीं अब जर्नलिस्ट प्रोटेक्शन एक्ट भी लागू करने की कवायद तेज हो रही है। उधर छत्तीसगढ़ सरकार इस मामले में अपनी सरकार से आग हैं। वहां वहां इस एक्ट के बारे में रायमशवरा लेने के लिए रिटायर्ड जस्टिम आफताब आलम की कयादत में एक कमेटी बना दी गई है। इस कमेटी को लोग सलाह मशवरा  दे रहे हैं। बहुत मुमकिन है कि वहां एमपी से पहले य जर्नलिस्ट प्रोटेक्शन एक्ट लागू हो जाए। वैसे उम्मीद की जा रही है कि इस विधान सभा सत्र में प्रोटेक्शन एक्ट को लेकर सरकार कुछ घोषणा कर सकती है।