नई दिल्ली: डेविड मलान और इयोन मोर्गन की तूफानी पारियों के दम पर इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड  को चौथे टी20 में बुरी तरह हरा दिया. उसने शुक्रवार को मेजबान न्यूजीलैंड को 76 रन से शिकस्त दी. यह इंग्लैंड की न्यूजीलैंड पर टी20 क्रिकेट मैच में सबसे बड़ी जीत है. उसने इस जीत के साथ ही 5 मैचों की टी20 सीरीज में वापसी कर ली है. तीन मैचों के बाद न्यूजीलैंड 2-1 से आगे है. इंग्लैंड ने चौथा मैच जीतकर स्कोर 2-2 कर दिया है.

न्यूजीलैंड के कप्तान टिम साउदी ने शुक्रवार को नेपियर में खेल गए चौथे टी20 मैच में टॉस जीता. उन्होंने पहले फील्डिंग चुनी. लेकिन यह फैसला गलत साबित हो गया. इंग्लैंड (England) ने तूफानी अंदाज में बैटिंग करते हुए तीन विकेट पर 241 रन का स्कोर टांग दिया. यह इंग्लैंड का टी20 इतिहास में सबसे बड़ा स्कोर भी है. लक्ष्य काफी बड़ा था और न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने इसके सामने घुटने टेक दिए. मेजबान टीम 16.5 ओवर में 165 रन बनाकर ऑलआउट हो गई.

इस मैच के हीरो इंग्लैंड के डेविड मलान और कप्तान इयोन मोर्गन रहे. तीसरे नंबर पर बैटिंग करने आए मलान ने 51 गेंद पर 103 रन की पारी खेली. उन्होंने अपनी पारी में 9 चौके और 6 छक्के जमाए. यह उनका पहला टी20 शतक भी है. इयोन मोर्गन ने 41 गेंद पर 91 रन बनाकर आउट हुए. उन्होंने 7 चौके और इतने ही छक्के लगाए. इंग्लैंड के लिए इन दोनों के अलावा टॉम बैंटन (20 गेंद पर 31 रन) ने अच्छी बैटिंग की. न्यूजीलैंड के लिए मिचेल सैंटनर ने दो और टिम साउदी ने एक विकेट लिया.

विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने अच्छी शुरुआत की. ओपनर कॉलिन मुनरो (30) और मार्टिन गप्टिल (27) ने महज 27 गेंद पर 54 रन की साझेदारी कर उम्मीद जगाई. लेकिन यह जोड़ी टूटते ही न्यूजीलैंड की टीम बिखरने लगी. प्रमुख बल्लेबाज एक-एक करके पैवेलियन लौटने लगे. आठवें क्रम पर आए कप्तान टिम साउदी ने जरूर 39 रन बनाए, लेकिन जीत के लिए यह काफी नहीं थे. साउदी ने 15 गेंद की अपनी पारी में 4 छक्के और 2 चौके लगाए.

इंग्लैंड का इस मैच से पहले सबसे बड़ा स्कोर 230/8 रन था, जो उसने 2016 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मुंबई में बनाया था. इसी तरह इससे पहले न्यूजीलैंड पर उसकी सबसे बड़ी जीत का अंतर 56 रन था. इंग्लैंड ने 2015 में मैनचेस्टर में न्यूजीलैंड को इस अंतर से हराया था.