कोरोना वायरस के संक्रमण से दुनिया के अधिकतर देश प्रभावित हुए हैं. इस वायरस ने दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमेरिका की भी हालत पतली कर दी है. कोरोना से अमेरिका में मरने वालों की संख्‍या 80 हजार के पार हो चुकी है.

इस संकट से निपटने के लिए अमेरिका में सख्‍त लॉकडाउन भी लागू किया गया है. इस लॉकडाउन के बावजूद अमेरिकी इलेक्ट्रिक-कार कंपनी टेस्ला ने अपने कैलिफोर्निया स्थित प्लांट को दोबारा खोल दिया है. अहम बात ये है कि टेस्‍ला के सीईओ ने सरकार को चुनौती भी दी है. एलन मस्‍क ने प्‍लांट खोले जाने की जानकारी देते हुए कहा कि वे गिरफ्तार होने को भी तैयार हैं.

 

Tesla is restarting production today against Alameda County rules. I will be on the line with everyone else. If anyone is arrested, I ask that it only be me.

— Elon Musk (@elonmusk) May 11, 2020

 

टेस्‍ला के सीईओ एलन मस्क ने ट्वीट किया, 'टेस्ला अल्मेडा काउंटी रूल्स के खिलाफ प्रोडक्शन दोबारा शुरू कर रही है. मैं बाकी सभी लोगों के साथ लाइन में रहूंगा. अगर किसी को गिरफ्तार किया जाता है तो सिर्फ मुझे किया जाना चाहिए. ' स्‍थानीय मीडिया के मुताबिक एलन के ट्वीट किए जाने के कुछ घंटों बाद ही टेस्ला ने कैलिफोर्निया की अल्मेडा काउंटी पर मुकदमा कर दिया. यहां बता दें कि अल्‍मेडा काउंटी कैलिफोर्निया की लोकल अथॉरिटी है.

यह पहली बार नहीं है जब टेस्‍ला के सीईओ एलन मस्‍क ने लॉकडाउन का विरोध किया है. वह लगातार प्रशासन के घर में रहने के आदेश की आलोचना कर रहे हैं. इसके साथ ही प्‍लांट को खोलने की मांग कर रहे हैं. हालांकि, प्रशासन की ओर से अनुमति देने से इनकार किया जा रहा है.

स्‍थानीय मीडिया के मुताबिक ऐसी आशंका है कि एलन मस्‍क कैलिफोर्निया से प्‍लांट को हटा सकते हैं. बहरहाल, लोकल अथॉरिटी और एलन मस्‍क के बीच का ये विवाद बढ़ने की स्थिति में राज्‍य के गवर्नर से दखल देने की मांग की जा रही है. बता दें कि अमेरिका के कैलिफोर्निया समेत कुछ राज्यों में बीते 50 दिन से लॉकडाउन लागू है.