थायराइड की बीमारी आज तेजी से अपने पैर पसारती जा रही है। पुरुषों के मुकाबले यह प्रॉबल्म महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलती है। ऐसे में जरुरी है इस बिमारी पर समय रहते रोक लगाई जाए। आप कुछ घरेलू नुस्खे अपनाकर भी इस बिमारी पर पकड़ पा सकते हैं। वैसे तो थायराइड कंट्रोल करने के बहुत सारे होममेड टिप्स आपको पता होंगे मगर जो टिप्स हम बताने जा रहे हैं वो बहुत ही आसान और असरदार नुस्खों में से एक है...

हल्दी वाला दूध
रोजाना हल्दी वाला दूध पीने से थायराइड कंट्रोल में रहता है। अगर आप हल्दी वाला दूध नहीं पी सकती तो हल्दी को हल्का भूनकर भी खा सकते हैं। इससे भी थायराइड कंट्रोल में रहेगा।

साबुत धनिया
1 चम्मच धनिया के बीज रात भर पानी में भिगोकर रख दें। सुबह इसे पानी सुमेत धीमी आंच पर 5-10 मिनट के लिए उबालें या फिर जब पानी आधा रह जाए तो गैस बंद कर दें। इस पानी को छानकर ठंडा होने के बाद पिएं। इस पानी को हफ्ते में दो बार पीने से आपको लाभ मिलेगा।

अलसी
ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर अलसी थायराइड हार्मोंस को संतुलित करने में मदद करता है। अलसी के बीज खाने से थायराइड ग्रंथि सही तरीके से अपना काम करती है। अगर आपको डायबिटीज नहीं है तो आप सर्दियों में अलसी के लडुडू बनाकर इनका सेवन करें, इससे भी आपको बहुत फायदा मिलेगा।

मुलेठी
मुलेठी में थायराइड को नार्मल करने के भरपूर गुण होते हैं। 2011 में एक शोध के मुताबिक बात सामने आई कि मुलेठी में ट्रीटरपेनोइट ग्लाइसेरीथेनिक नाम का एसिड पाया जाता है, जो न केवल थायराइड को कंट्रोल करता है बल्कि थायराइड कैंसर कोशिकाओं को भी कंट्रोल में रखता है। जिससे आपको गले का कैंसर होने के चांसिस बहुत कम हो जाते हैं।

प्याज की मसाज
थायराइड को कंट्रोल करने के लिए प्याज का रस एक अच्छा ऑप्शन है। इसके लिए प्याज को दो हिस्सों में काटकर सोने से पहले थायराइड ग्लैंड के आस-पास क्लॉक वाइज मसाज करें। मसाज करने के बाद 15-20 मिनट के लिए गर्दन को ऐसे ही छोड़ दें।

गेहूं और ज्वार
गेंहू और ज्वार आर्युवेद में थायराइड की समस्या को दूर करने का बेहतरीन और सरल उपाय है। इसके अलावा यह साइनस, उच्च रक्तचाप और खून की कमी जैसी समस्याओं को भी रोकने में मदद करता है।