उन्नाव: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने उन्नाव रेप पीड़िता के परिजनों को 25 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है. योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री कमला रानी वरूण ने उन्नाव पीड़िता के परिजनों को 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की. कैबिनेट मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन की बात कही है. इसके साथ ही पीड़िता के परिजनों को एक प्रधानमंत्री आवास भी दिया जाएगा. योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री कमला रानी, स्वामी प्रसाद मौर्या और बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने शनिवार को उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के परिवार से मुलाकात की.

पीड़िता के परिजनों से मुलाकात कर बीजेपी नेताओं ने परिजनों ने घटना पर दुख जताया. साथ ही परिजनों को हरसंभव मदद करने का आश्वासन भी दिया. बता दें कि उन्नाव में आग के हवाले की गई दुष्कर्म पीड़िता की शुक्रवार रात दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई. करीब 90 फीसदी झुलस चुकी पीड़िता को गुरुवार को एयरबस से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल लाया गया था. अस्पताल की ओर से बताया गया कि शुक्रवार (6 दिसंबर) को रात 11:40 बजे पीड़िता ने आखिरी सांस ली.

पीड़िता को शुक्रवार रात को 11:10 बजे कार्डियक अरेस्ट आया, जिसके बाद डॉक्टरों की टीम उसे संभालने में जुट गए, लेकिन जान नहीं बचाई जा सकी. पीड़िता ने शुक्रवार सुबह में डॉक्टर से पूछा था कि क्या मैं बच जाऊंगी?' उसने अपने भाई से कहा था कि अगर उसकी मौत हो जाती है तो दोषियों को नहीं छोड़ना.

ज्ञात हो कि उन्नाव के बिहार थानाक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले एक गांव की युवती के साथ दुष्कर्म हुआ था. इसके बाद दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था. युवती इसी मामले की पैरवी के लिए गुरुवार को रायबरेली जा रही थी. गुरुवार तड़के करीब चार बजे पीड़िता रायबरेली जाने के लिए ट्रेन पकड़ने बैसवारा स्टेशन के लिए निकली थी, तभी गांव के बाहर खेत में दोनों आरोपी व उनके तीन साथियों ने उसके ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगा दी.