अमेरिका के फिलाडेल्फिया में बच्चों समेत कार चोरी करने पर एक शख्स को भीड़ ने पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया. मृतक की पहचान एरिक हुड के रूप में हुई है. उसकी उम्र 55 साल बताई गई है. मॉब लिंचिंग की यह वारदात गुरुवार को जब हुई तब एरिक हुड ने बच्चों समेत कार चुराई. कार में तीन बच्चे बैठे हुए थे.

फिलाडेल्फिया पुलिस ने कहा कि एरिक हुड नाम के एक शख्स की भीड़-भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी. मृतक शख्स पर आरोप है कि उसने बच्चों समेत कार चुराई थी. पुलिस ने बताया कि गुरुवार को एरिक हुड ने बच्चों के साथ कार को उस वक्त चुराया, जब उनके माता-पिता एक स्टोर में थे.

पुलिस के मुताबिक, एरिक हुड के कार चुराने की सूचना मिलते ही बच्चों के माता-पिता ने उसका पीछा किया और कार के ट्रैफिक में फंसने पर उन्होंने कार को चला रहे एरिक हुड को बाहर निकाला. इसके बाद एरिक हुड ने बच्चों के पिता के साथ मारपीट की और फिर भागने की कोशिश की, लेकिन मौके पर मौजूद भीड़ ने उसे पकड़ लिया. इसके बाद भीड़ ने एरिक हुड को जमकर पीटा.

In an apparent act of mob justice, a man was beaten to death after he tried to steal a car with three children inside, Philadelphia police said.https://t.co/bIjYCnKChg

— CNN (@CNN) July 13, 2019

मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने एरिक हुड को अस्पताल में भर्ती कराया. इसके बाद टेम्पल यूनिवर्सिटी अस्पताल में उसे मृत घोषित कर दिया गया. फिलाडेल्फिया पुलिस ने इस मामले की कड़े शब्दों में निंदा की है. एक पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘मैं स्ट्रीट जस्टिस (भीड़ के इंसाफ) का प्रशंसक नहीं हूं, क्योंकि यह आपराधिक कार्यों की श्रेणी में आता है.’

पुलिस ने एरिड हुड के साथ हुई मॉब लिंचिंग (भीड़ की हिंसा) के वीडियो फुटेज को कब्जे में ले लिया है. जिसके आधार पर पुलिस एरिक हुड पर हमला करने वालों की पहचान करने की कोशिश कर रही है. अभी तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. पुलिस ने कहा कि वाहन में मौजूद बच्चों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा. पुलिस ने कहा कि मामले में जांच जारी है.