बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष को कानूनी नोटिस भेजा है. कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी की ओर से भेजे गए इस कानूनी नोटिस में कंगना ने पत्रकार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. बता दें कि शनिवार को प्रेस क्लब ऑफ इंडिया ने एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट्स गिल्ड के कंगना रनौत को बायकॉट करने के फैसले का सपोर्ट किया था.

कंगना से पत्रकार से मांफी मांगने के लिए कहा गया था, जिससे कंगना के इनकार के बाद प्रेस क्लब ऑफ इंडिया ने बयान जारी किया. इस बयान में कहा गया था, 'हम प्रेस क्लब ऑफ इंडिया, बॉलीवुड की एक एक्ट्रेस के मीडिया के लोगों की तरफ बुरे व्यवहार और गाली गलौज भरी भाषा से क्रोधित और हैरान हैं. इस इस मामले की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं. पत्रकारों के साथ ऐसा व्यवहार और गाली गलौज अस्वीकार्य है. हम मुंबई में एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को कवर करने से बायकॉट करने वाले पत्रकारों यानी एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट्स गिल्ड के निर्णय का समर्थन करते हैं.'

बता दें कि 7 जुलाई को कंगना रनौत ने अपनी फिल्म जजमेंटल है क्या के गाने के लॉन्च के वक्त एक पत्रकार पर उनकी फिल्म मणिकर्णिका के बारे में बुरी बातें लिखने का इल्जाम लगाया था. कंगना ने दावा किया था कि पत्रकार ने उन्हें पर्सनली मैसेज किए थे और उनके साथ उनकी वैनिटी वैन में 3 घंटे बिताए थे. पत्रकार ने उस ही समय कंगना के लगाए सभी आरोपों को नकार दिया था. उसने बताया था कि वो और कंगना एक इंटरव्यू के लिए सिर्फ कुछ देर ही साथ थे और उसने कंगना को कोई मैसेज नहीं भेजे.

इस मामले के बाद फिल्म जजमेंटल है क्या की प्रोड्यूसर एकता कपूर ने मीडिया से माफी मांगी थी. हालांकि कंगना रनौत ने पत्रकर से माफी मांगने से साफ इनकार कर दिया था और मीडिया के खिलाफ सोशल मीडिया पर एक वीडियो जारी करते हुए एक खेमे से नाराजगी जताई थी. बाद में कंगना ने पत्रकार और एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट्स गिल्ड को मानहानि का नोटिस भी भेजा था.