संयुक्त राष्ट्र: ईरान के विदेश मंत्री ने फिर से अमेरिका पर ‘‘आर्थिक आतंकवाद'' फैलाने का आरोप लगाया है। कई महीने के विवाद के बाद विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास सत्र के लिए न्यूयॉर्क पहुंचे, जहां उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा लगाए गए एकतरफा प्रतिबंधों की निंदा की।

जरीफ ने कहा कि ईरान "आर्थिक आतंकवाद" का शिकार है और नाजायज राजनीतिक उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए निर्दोष नागरिकों को जानबूझकर निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गैरकानूनी, अलौकिक प्रतिबंध ईरान और हमारे कई पड़ोसियों के सतत विकास लक्ष्यों की उपलब्धि के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं।

ट्रम्प ने पिछले साल पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के बहुराष्ट्रीय परमाणु समझौते से अमेरिका को हटा लिया था, जिसके तहत ईरान ने नाटकीय रूप से अपने परमाणु कार्यक्रम को फिर से शरू कर दिया है।