इस्लामाबाद : भारत के बाद अब पाकिस्तान में भी लगातार पॉर्न वेबसाइट्स को ब्लॉक किया जा रहा है. पाकिस्तान में सीनेट की एक समिति को बताया गया कि देश में आठ लाख अश्लील वेबसाइट बंद की जा चुकी हैं. देश में कुल मिलाकर पोर्न साइट देखने वालों की संख्या में कमी आई है.

दरअसल, पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण (पीटीए) के चेयरमैन सेवानिवृत्त मेजर जनरल आमिर अजीम बाजवा ने सीनेट की सूचना प्रौद्योगिकी एवं दूरसंचार मामलों की स्थायी समिति को यह जानकारी दी है.

मेजर जनरल आमिर अजीम बाजवा ने चाइल्ड पॉर्नोग्राफी पर रिपोर्ट देते हुए बताया कि देश में आठ लाख पॉर्न साइट ब्लॉक की जा चुकी हैं जिनमें से 2384 चाइल्ड पॉर्नोग्राफी साइट शामिल हैं. उन्होंने कहा कि यहां तक कि गूगल ने भी पूछा है कि देश में इन साइट में कमी कैसे आई है. हमनें उन्हें भी रिपोर्ट दी है.

उन्होंने बताया कि पाकिस्तान बच्चों से संबद्ध अश्लील सामग्री पर रोक के लिए लगातार इंटरपोल से संपर्क बनाए हुए है. बाजवा ने कहा कि पाकिस्तान में अश्लील सामग्री को अपलोड करने के प्रमाण नहीं मिले हैं लेकिन वीपीएन (वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क) और प्राॅक्सी के जरिए इसे देश में अभी देखा जा रहा है. पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण, पीटीए अब तक ऐसे 11 हजार प्रॉक्सी को ब्लॉक कर चुका है. वीपीएन की निगरानी के लिए भी नए तरीकों पर काम चल रहा है.