सीहोर: अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में बनी रहने वाली भोपाल लोकसभा सीट से सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बोल एकबार फिर से बिगड़ गए हैं. इस बार उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी स्वच्छ भारत अभियान को लेकर एक बेतुका बयान दिया है. मध्य प्रदेश के सीहोर में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने सफाई कराने के सवाल पर कहा कि हम नाली और शौचालय साफ करवाने के लिए नही बने हैं. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशभर में लोगों को स्वच्छ भारत अभियान के लिए लगातार प्रेरित करते रहते हैं. वहीं, उनकी ही पार्टी की सांसद का यह बयान इस अभियान में पलीता लगाता नजर आ रहा है.

वीडियो में साध्वी प्रज्ञा सिंह ने कहती नजर आ रही हैं कि हम नाली साफ करवाने के लिए नहीं बने हैं. हम आपका शौचालय साफ करने के लिए बिल्कुल नहीं बनाए गए हैं. हम जिस काम के लिए बनाए गए हैं, वो काम हम ईमानदारी से करेंगे.

वहीं, एक अन्य बयान में उन्होंने कहा था कि उन्होंने मुंबई एटीएस प्रमुख हेमंत करकरे को श्राप दिया था और इसके एक माह बाद आतंकवादियों की गोलियों से उनकी मौत हो गयी. साध्वी प्रज्ञा ने यह भी बयान दिया था कि अध्योध्या में राम मंदिर निर्माण आंदोलन के दौरान बाबरी ढांचा ढहाने में शामिल होने पर उन्हें गर्व है. साध्वी प्रज्ञा की इन बयानों की सभी ने आलोचना की यहां तक कि उनके दल भाजपा ने भी स्वयं को उनके बयानों से अलग कर लिया. चुनाव आयोग ने साध्वी के शहीद करकरे पर दिये गये बयान पर कार्रवाई करते हुए उनके चुनाव प्रचार पर 72 घंटे के लिये प्रतिबंध लगा दिया था.