दुनिया का सबसे ज्यादा यूज किया जाने वाला इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp है. भारत में इसके सबसे ज्यादा यूजर्स हैं. आए दिन आप ये सुनते होंगे कि आपके डेटा पर खतरा है. हैकिंग हो सकती है. वॉट्सऐप की स्पाई की जा सकती है. लेकिन यकीन मानें अगर आप थोड़ी सावधानी बरतेंगे तो डेटा चोरी, हैकिंग और स्पाई होने से खुद आराम से बचा सकते हैं.

हम आपको WhatsApp से जुड़ी कुछ सेफ्टी टिप्स बता रहें हैं जिसे फॉलो करके आप सेफ और सिक्योर रह सकते हैं. आपमे से कुछ इन टिप्स के बारे में पहले से जानते होंगे. लेकिन जिनको जानकारी नहीं है उनके लिए ये टिप्स काफी फायदेमंद होने वाले हैं.  याद रखें कि WhatsApp ऐसा प्लेटफॉर्म है जो end to end encryption से प्रोटेक्टेड है. यानी आपके मैसेज और कॉल्स आपके सिवा कोई दूसरा देख या सुन नहीं सकता है.

WhatsApp Web ऐक्सेस
WhatsApp Web ऐक्सेस आपके वॉट्सऐप को स्पाई करने का हैकर्स के लिए आसान तरीके की तरह है. कई ऐप्स हैं जो इस तरह का काम करते हैं. कुछ सेकंड्स के लिए कोई आपसे आपका फोन लेकर आपके वॉट्सऐप को रियल टाइम मॉनिटर कर सकता है.
इससे बचने के लिए आप WhatsApp ऐप ओपन करके WhatsApp Web/Desktop  पर टैप करें. अगर कहीं आपका WhatsApp वेब यूज किया जा रहा है तो यहां दिखेगा. यहां से आप दूसरे जगहों पर लॉग आउट कर सकेंगे.

Two-Step Verification एनेबल कर लें
ये WhatsApp में एक्स्ट्रा सिक्योरिटी के लिए है. इस फीचर के तहत आपको छह डिजिट का एक पिन तैयार करना है. इसके बाद अगर कोई शख्स आपके नंबर से वॉट्सऐप ऐक्टिवेट करने की कोशिश करेगा तो उसे छह डिजिट का पिन दर्ज करना होगा जिसे आपने बनाया है.

टु स्टेप वेरिफिकेशन को एनेबल करने के लिए WhatsApp की सेटिंग्स में जा कर Account पर टैप करें. यहां आपको Two Step verification का ऑप्शन दिखेगा. यहां टैप करके इसे एनेबल कर लें. यहां आप ईमेल आईडी भी दर्ज कर सकते हैं. अगर किसी स्थिति में आप टु स्टेप वेरिफिकेशन पिन भूल गए हैं तो ईमेल पर लिंक भेज कर अकाउंट ऐक्सेस कर सकते हैं. 

Two Step Verification में बरतें सावधानी
WhatsApp के मुताबिक कंपनी आपके द्वारा दर्ज किए गए ईमेल अड्रेस को वेरिफाई नहीं करती है. इसलिए आप अपनी ईमेल आईडी ध्यान से दर्ज करें. WhatsApp के मुताबिक अगर आपको WhatsApp के टु स्टेप वेरिफिकेशन का ईमेल मिला है और आपने इसके लिए रिक्वेस्ट नहीं किया है तो इस पर क्लिक न करें, क्योंकि कोई दूसरा आपके WhatsApp के फोन नंबर को टु स्टेप वेरिफिकेशन के जरिए ऐक्सेस करना चाहता है.

Privacy को ऐसे करें कंट्रोल
WhatsApp के मुताबिक आप प्राइवेसी सेटिंग्स में जा कर अपने प्रोफाइल फोटो, लास्ट सीन और अबाउट सेक्शन को Everyone से हटा कर Contacts only या Only Me कर सकते हैं. इससे फायदा ये होगा कि अनचाहे लोग आपको परेशान नहीं कर पाएंगे और न ही वो आपके वॉट्सऐप अकाउंट को टार्गेट कर सकेंगे.

WhatsApp से आप अपने अकाउंट इनफॉर्मेशन और सेटिंग्स की जानकारी मांग सकते हैं. इसके तहत आपको आपकी वॉट्सऐप अकाउंट से जुड़ी जानकारियां जैसे – ग्रुप का नाम, प्रोफाइल फोटोज वगैरह मिलेंगी. इनमें आपके चैट्स शामिल नहीं होंगे.

अकाउंट इनफो रिक्वेस्ट के लिए वॉट्सऐप सेटिंग्स में जा कर अकाउंट सेक्शन में रिक्वेस्ट अकाउंट इनफो पर टैप कर सकते हैं. पूरी रिपोर्ट आने में तीन दिन लग सकते हैं.

Media Auto Download को रोकें
WhatsApp का ऑटो डाउनलोड फीचर आपके लिए खतरनाक हो सकता है. कोशिश करें कि आपके वॉट्सऐप का ऑटो डाउनलोड फीचर ऑफ हो. क्योंकि स्पैम करने वाले इस फीचर का फायदा उठा रहे हैं. आपके वॉट्सऐप पर खतरनाक इमेज फाइल या वीडियो भेज कर आपके स्मार्टफोन में छेड़ छाड़ किया जा सकता है.

Media Auto download को कंट्रोल करने के लिए WhatsApp में Data and storage usage पर टैप करें. यहां फोटोज, ऑडियो, वीडियोज और डॉक्यूमेंट्स का ऑप्शन मिलेगा. सभी ऑप्शन्स पर टैप करके Never पर टैप कर दें. ऐसा करने से कोई भी मीडिया फाइल्स डायरेक्ट आपकी गैलरी में सेव नहीं होंगी और आपको मैनुअली इन्हें डाउनलोड करना होगा. यानी आप ये तय कर पाएंगे कि कौन से फाइल्स आपके लिए सही हैं.

इन सब के अलावा और भी कई तरीके हैं, फीचर्स हैं जिन्हें यूज करके सेफ और सिक्योर रहा जा सकता है जिनके बार में हम बाद में जिक्र करेंगे. अभी के लिए आप इन तरीकों को फॉलो करके सेफ रह सकते हैं.