मुंबई के बांद्रा स्थित महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (एमटीएनएल) बिल्डिंग में सोमवार को भीषण आग लग गई. बचाव अभियान के लिए दमकल विभाग की 4 गाड़ियां मौके पर पहुंची हैं. दमकल विभाग के बचावकर्मी आग बुझाने की कोशिश कर रहे हैं.

आग की गंभीरता को देखते हुए दमकल की 14 गाड़ियां घटनास्थल पर लगाई गई हैं. लोगों को सुरक्षित निकाला जा रहा है.

अब तक आग से 20 लोगों को बचा लिया गया है. मुंबई फायर ब्रिगेड की गाड़ियां लोगों को नीचे उतार रही है.

Mumbai: Fire fighting operations underway in Bandra where a level 4 fire has broken out in MTNL (Mahanagar Telephone Nigam Limited) building. 14 fire tenders are present. People trapped in the building are being evacuated, approximately 100 people are reportedly trapped. pic.twitter.com/d1satP1byT

— ANI (@ANI) July 22, 2019

अब तक किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. बचाव कार्य जारी है. घटना के विस्तृत ब्योरे की प्रतीक्षा है. जिस बिल्डिंग में आग लगी है, उसकी छत पर 100 लोग फंसे हैं जिन्हें निकालने का काम जारी है.

#WATCH Mumbai: A level 4 fire has broken out in MTNL Building in Bandra, 14 fire tenders are present at the spot. Fire fighting operations are underway. Approximately 100 people are reportedly trapped on the terrace of the building. More details awaited. pic.twitter.com/CVCAP8Tjj2

— ANI (@ANI) July 22, 2019

Mumbai: Fire breaks out in MTNL (Mahanagar Telephone Nigam Limited) building at Bandra, 4 fire tenders are present at the spot. Fire fighting operations are underway. No injuries or casualties have been reported. More details awaited. #Maharashtra

— ANI (@ANI) July 22, 2019

इससे पहले मुंबई में ही ताजमहल और डिप्लोमैट होटल के पास चर्चिल चैंबर बिल्डिंग में आग लगी थी. दमकल के कर्मचारियों ने 14 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला था. इस हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. वहीं, दो लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे.

दमकल की टीमें गाड़ियों के साथ तुरंत मौके पर पहुंचीं और आग पर काबू पाने की कोशिश की. फंसे हुए 14 लोगों को सुरक्षित बचाया गया. हादसे में घायल हुए 54 साल के व्यक्ति श्याम अय्यर को जीटी अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया. घटना में घायल हुए 50 वर्षीय व्यक्ति यूसुफ पूनमवाला को इलाज के लिए बंबई अस्पताल में भर्ती कराया गया है. शरीर के अंदर जहरीले धुएं चले जाने के बाद पांच लोगों को प्राथमिक उपचार देने के बाद छुट्टी दे दी गई.

मांडवी अग्निशमन के एक कर्मी भीरमल संतोष पाटिल का आग बुझाने के दौरान दम घुटा, जिसके बाद उन्हें एम्बुलेंस में मेडिकल सहायता दी गई. तीन घंटे के बाद आग पर काबू पा लिया गया. इस घटना से स्थानीय लोगों और पर्यटकों को तनाव में देखते हुए पुलिस ने एतियातन व्यस्त मेवेदर रोड को बंद कर दिया.