नई दिल्ली: ब्रिटेन की नौसेना द्वारा जिब्राल्टर जलसंधि में जब्त किए गए ईरानी टैंकर ग्रेस 1 पर सवार सभी 24 भारतीय सुरक्षित हैं. विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने यह जानकारी दी. उन्होंने साथ ही कहा कि इसकी प्रतिक्रिया में ईरान द्वारा शुक्रवार को खाड़ी में जब्त किए गए ब्रिटिश टैंक स्टेना इंपेरो पर सवार सभी 24 भारतीय भी सुरक्षित हैं और तेहरान में भारतीय राजदूत ने उनसे मुलाकात की है. भारत ने 20 जुलाई को भारतीय सदस्यों तक राजनयिक पहुंच की मांग की.

Our High Commission in London @HCI_London has confirmed all 24 Indian nationals on board vessel ‘Grace 1’ detained by Gibraltar police authorities are safe. @narendramodi @PMOIndia @AmitShah @DrSJaishankar @VMBJP @MEAIndia

— V. Muraleedharan (@MOS_MEA) July 22, 2019

मुरलीधरन ने ट्वीट किया कि लंदन में भारतीय उच्चायोग के अधिकारी ग्रेस 1 पर सवार भारतीय सदस्यों से 24 जुलाई को मुलाकात करेंगे. उन्होंने ट्वीट किया और कहा कि लंदन में हमारे उच्चायोग ने पुष्टि की है कि जिब्राल्टर पुलिस प्रशासन द्वारा हिरासत में लिए गए ग्रेस 1 में सवार सभी 24 भारतीय सुरक्षित हैं. उन्होंने कहा कि लंदन में भारतीय अधिकारी जिब्राल्टर में भारतीय दल के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन से लगातार संपर्क में हैं.

Our Mission @HCI_London is in constant touch with the Indian crew and also Royal Gibraltar authorities. Our High Commission team is visiting Gibraltar on 24 July to meet the crew. @narendramodi @PMOIndia @AmitShah @DrSJaishankar @VMBJP @MEAIndia

— V. Muraleedharan (@MOS_MEA) July 22, 2019

उन्होंने कहा, 'लंदन स्थित हमारे राजनयिक भारतीय दल तथा रॉयल जिब्राल्टर प्रशासन से लगातार संपर्क में हैं. हमारी उच्चायोग की टीम 24 जुलाई को भारतीय दल से मुलाकात करने के लिए जिब्राल्टर जा रही है.' उन्होंने कहा कि स्टेना इंपेरो वर्तमान में बंदर अब्बास से कुछ दूरी पर स्थित बंदर शाहिद बाहोनार पर है. हमारे राजदूत ने कहा है कि सभी भारतीय क्रू सुरक्षित हैं.