हुंडई मोटर इंडिया अपने कार मॉडल्स की कीमतों में एक अगस्त से 9,200 रुपये तक की बढ़ोतरी करेगी. हुंडई मोटर इंडिया (एचएमआईएल) के अनुसार, कीमतों में बढ़ोतरी निवेश लागत में बढ़ोतरी की वजह से होगी, यह वृद्धि सरकार की तरफ से कारों में नए सुरक्षा नियमन को शामिल करने की वजह से हुई है.

कंपनी ने एक बयान में कहा, 'नई कीमतें एक अगस्त 2019 से सभी मॉडलों पर प्रभावी हो जाएंगी.' देश में एचएमआईएल दूसरी सबसे बड़ी कार निर्माता है. मौजूदा समय में कंपनी के 10 मॉडल हैं. इसमें सैंट्रो, ग्रैंड आई10, एलीट आई 20, एक्टिव आई 20, एक्सेंट, वरना, एलेंटरा, वेन्यू, क्रेटा और ट्यूशान (Tucson) शामिल हैं.

हालांकि ह्यूंडई मोटर इंडिया का कहना है कि कीमत में बढ़ोतरी की मार का असर हाल ही में लॉन्च Kona Electric और Venue जैसे मॉडल पर नहीं होगा. इन दोनों मॉडल को छोड़कर अगले महीने से हुंडई के सभी कार मॉडल महंगे हो जाएंगे. कंपनी की मानें तो सेफ्टी रेगुलेशन पूरा करने की वजह से गाड़ियों की लागत बढ़ गई है. लिहाजा उन्हें गाड़ियों के दाम बढ़ाने पड़ रहे हैं.

HMIL फिलहाल अलग-अलग सेगमेंट्स में 10 मॉडल्स बेच रही है. वहीं इस बीच पिछले महीने HMIL के कारों की बिक्री 3.2 फीसदी घटकर 58,807 यूनिट रह गई है. पिछले साल के इसी महीने में कंपनी ने कुल 60,772 यूनिट बेचे थे. वहीं जून 2019 में कंपनी का एक्सपोर्ट 9 फीसदी बढ़कर 16,800 यूनिट रहा जो पिछले साल जून में 15,408 यूनिट था.

हुंडई मोटर ने सड़क पर अपने ग्राहकों को मदद पहुंचाने के लिए हुंडई रिलीफ टास्क फोर्स बनाई है, जो भारी बारिश या अन्य मुसीबतों में फंसे ग्राहकों को मदद करेगी.