जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त करने के मोदी सरकार के फैसले बाद पाकिस्तान एक के बाद एक बौखलाया कदम उठा रहा है। खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान ने रेल-बस सर्विस रोकने और राजनयिक संबंध तोड़ने के बाद अब  लद्दाख के पास अपने स्कर्दू पर लड़ाकू विमानों की तैनाती शुरू कर दी है। शनिवार को उसने तीन सी-130 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट यहां भेजे । इनमें फाइटर एयरक्राफ्ट के उपकरण लाए गए। जेएफ-17 फाइटर जेट को भी स्कर्दू एयरफील्ड में तैनात किया जा सकता है।

Pak deploying fighter jets to Skardu near Ladakh, India watching closely

Read @ANI story | https://t.co/kO0bBTLhL7 pic.twitter.com/AvukJkAJLn

— ANI Digital (@ani_digital) August 12, 2019

भारत सरकार के सूत्रों ने कहा कि हम पाक की हरकतों पर बारीकी से नजर रख रहे हैं। खुफिया विभाग ने वायुसेना और सेना को विमानों की तैनाती के बारे में अलर्ट भेजा है। स्कर्दू पाकिस्तान का एक फॉर्वर्ड ऑपरेटिंग बेस है। वह इसका इस्तेमाल बॉर्डर पर आर्मी ऑपरेशन को सपोर्ट करने के लिए करता है। सूत्रों की मानें तो पाक वायुसेना यहां अभ्यास करने की योजना बना रही है। यही कारण है कि वह अपने विमान स्कर्दू में शिफ्ट कर रही है। पाकिस्तान सी-130 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट का पुराना वर्जन इस्तेमाल करता है। पाक ने इसे काफी समय पहले अमेरिका से खरीदा था।

अगस्त 1988 को पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति जिया उल हक की मौत भी सी-130 क्रैश में हुई थी। तब जिया के एयरक्राफ्ट में विस्फोट हो गया था। गौरतलब है कि इससे पहले भी पाकिस्तान के एक पत्रकार ने ट्वीट किया था कि भारत के फैसले के बाद पाकिस्तान की सेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) के पास अपनी तैनाती बढ़ा दी है। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई थी।

बता दें कि पाकिस्तान भारत के द्वारा जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का विरोध कर रहा है।  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री, विदेश मंत्री और सरकार का हर प्रतिनिधि लगातार भारत के खिलाफ बयानबाजी कर कर रहा है। पाकिस्तान लगातार कश्मीर के मसले को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाने की कोशिश कर रहा है, लेकिन हर जगह से उसे निराशा ही हाथ लग रही है।