बड़वानी के पास नाव में सवार दो लोगों की करंट से मौत वाली खबर यहां पूरी शिद्दत से आई। उधर कश्मीर में शांति तो है लेकिन त्यौहार की रौनक गायब है। मुकेश अंबानी बताने वाले हैं कि कश्मीर में निवेश का उनका क्या प्लान है। ईद की नमाजों के फोटू भेतरीन आए। बाकी स्कूटर पे बैठ के दुआ तो मांगी जा सकती है लेकिन नमाज नहीं पढ़ी जा सकती। फोटो कैप्शन में लिखा गया कि जगह न मिलने पर स्कूटर पर नमाज अदा करनी पढ़ी। ध्यान से देखो साब लोग नमाज नहीं दुआ मांग रहे हैं। आश्रय गृह के बच्चों का टेलेंट निखारने की पहल वाली खबर उम्दा रही। हमीदिया में नए रजिस्टेशन काउंटर नहीं बनने वाली खबर ध्यान खींचती है।