जिंदा रहना है तो हालात से डरना कैसा, जंग लाजिम हो तो लश्कर नहीं देखे जाते। सुप्रीम कोर्ट का मानना है कि कश्मीर में हालात ठीक नहीं है। इन्हें सामान्य बनाए जाने तक पाबंदियां नहीं हटाई जानी चाहिए। यहीं राज्यपाल सत्यपाल मलिक से वहां के हालात पर हेमंत अत्री और उपमिता वाजपेई ने टू द पाइंट बात करी। भोपाल समेत 22 शहरों में बारिश का कोटा पूरा होने वाली खबर पढ़ी जाएगी। भदभदा के मोहरे खुलने की इत्ती दीवानगी है कि लोग जान जोखिम में डाल कर चट्टानों पर जा रहे हें। ये अच्छा हुआ के अब इंदौर जाने वाली बसें आईएसबीटी से चलेंगी। अनूप दुबे की उम्दा खबर। बाकी वाल्वो तो खां झंई से चल्लई थीं। शाहजहानी में बन रहे सीपीटी को पातरा में शिफ्ट करने के मश्वरे वाली खबर भी यहां है। स्कूलों के बजाए 186 कालेजों में भोज विवि के सेंटर्स चलाए जाएंगे।