प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आजादी के जश्न के बाद देश की जनता को 'मन की बात' रेडियो कार्यक्रम के जरिए  संबोधित करेंगे. इस महीने की 25 तारीख को पीएम मोदी के मन की बात रेडियो कार्यक्रम का प्रसारण किया जाएगा. इसके लिए पीएम मोदी ने देशवासियों से सुझाव मांगे हैं.

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'भारतीयों द्वारा किए गए असाधारण कार्य का जश्न मनाने के लिए 'मन की बात' शानदार मंच है. अब 25 अगस्त को मन की बात कार्यक्रम का अगला एपिसोड प्रसारित होगा. इसके लिए सभी भारतीय NaMo ऐप पर अपने विचार साझा करें.'

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और विशेष राज्य का दर्जा खत्म किए जाने के बाद यह पहला 'मन की बात' कार्यक्रम होगा. माना जा रहा है कि इस बार मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी कश्मीर और पाकिस्तान समेत कई मुद्दों पर अपनी बात रख सकते हैं. इससे पहले पीएम मोदी ने 28 जुलाई को मन की बात कार्यक्रम के जरिए देशवासियों को संबोधित किया था.

पिछली बार पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में जलनीति, अमरनाथ यात्रा, चंद्रयान 2 की लॉन्चिंग और विज्ञान के प्रति बच्चों की रुचि बढ़ाने के लिए क्विज कॉम्पिटिशन समेत कई मुद्दों का जिक्र किया था. जलनीति पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि जल संरक्षण का विषय देश के लोगों के दिल को छूने वाला है. जल संरक्षण के लिए सरकार और कई एनजीओ युद्ध स्तर काम कर रहे हैं.

पिछली बार पीएम मोदी ने कश्मीर का भी जिक्र किया था. उन्होंने कहा था कि कश्मीरी विकास की मुख्यधारा से जुड़ने के लिए बेताब हैं. बैक टू विलेज कार्यक्रम में दूर-दराज के गांवों से भी लोग शामिल हुए थे और अनंतनाग, शोपियां, कुलगाम, पुलवामा के ग्रामीण इलाकों में अधिकारियों का स्वागत किया था. कश्मीर में नफरत फैलाने वाले अपने मकसद में कभी सफल नहीं होंगे.