हैदराबाद : इंडिया गेम डेवलपर्स कांफ्रेंस (IGDC) के 11वें संस्करण का नवंबर में आयोजन किया जाएगा, जिसमें भारतीय उपमहाद्वीप के गेम उद्योग के नवीनतम प्रगति का प्रदर्शन किया जाएगा और नए प्रचलन पर चर्चा आयोजित की जाएगी. इस दो दिवसीय आयोजन की शुरुआत 22 नवंबर से होगी और इसमें भारत में डिजिटल मनोरंजन उद्योग में कार्यों और सामग्रियों में आविष्कार पर भी चर्चा की जाएगी. आयोजकों का कहना है कि IGDC वैश्विक गेमिंग स्टूडियो, डेवलपर्स और गेमिंग उद्यमों का लगातार ध्यान आकर्षित कर रहा है.

IGDC में 3,000 से ज्यादा उद्योग पेशेवर और 200 उद्योग विशेषज्ञ वक्ता भाग लेंगे. इसमें 10 महत्वपूर्ण आयोजन, 200 एक्सपो स्टॉल्स, 25 प्रकाशक और 25 निवेशक भाग लेगें. इसमें देश भर की गेमिंग कंपनियां भाग लेंगी, जिसमें सात श्रेणियों में प्रसिद्ध आईजीडीसी पुरस्कार भी शामिल है.

इंडिया गेम डेवलपर्स कांफ्रेंस के चेयरपर्सन और धुव्र इंटेक्टिव के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजेश राव ने कहा, "उद्योग मैच्योर हो रहा है और हमारा मानना है कि आईजीडीसी हर किसी को आना चाहिए, ताकि नवीनतम प्रचलनों, मार्केट इंटेलीजेंस, सफलता की कहानियां, कार्यशालाएं, निवेशकों से मुलाकात का अवसर मिले और बेशक भारतीय गेमिंग पारिस्थितिकी तंत्र से हर किसी को इस सम्मेलन में आना चाहिए, जो बेहतरीन नेटवर्किंग अवसर प्रदान करेगा."