जोधपुर: राजस्थान के जोधपुर जिले में सक्रिय डबल जीरो सेवन गैंग (007) के कारनामे ने लोगों के होश फाख्ता कर दिए हैं. इस गैंग के द्वारा नाबालिग बच्चों को निशाना बनाया जाता है और उन्हें खतरनाक हथियार चलाने की ट्रेनिंग दी जाती है. पुलिस ने अब इस मामले का पर्दाफाश कर दिया है और आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की बात कही है.

बता दें कि इस गैंग के सदस्य खुले में खतरनाक हथियार लहराते हैं. गैंग के सदस्य वारदात को अंजाम देने के बाद पंजाबी गाने पर थिरकते हैं और बंदूकें लहराते हैं. गैंग के सदस्यों ने हाल ही में भोजासर में लोगों से मारपीट की है जिसमें पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. बता दें कि जीरो सेवन गैंग का गठन जेम्स बॉन्ड के कोड के नाम पर किया गया है.

बच्चे करते हैं हवाई फायरिंग
इस गैंग में शामिल नाबालिग बच्चे बड़ी आसानी से फायरिंग करते हैं. इन बच्चों के हौसले देखकर लोग सकते में आ जाते हैं. सोशल मीडिया पर मामले का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मंच गया है. पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. शुरुआती जांच में पता चला है कि बच्चे के फायरिंग का जो वीडियो सामने आया है वह जोधपुर से 100 किलोमीटर दूर लोहावट गांव का है.

नागौर और बीकानेर की पुलिस बदमाश गैंग के सरगना श्याम पूनिया की तलाश कर रही है. आईजी की ओर से पुनिया और उसके क्राइम पार्टनर राम मंजू पर 10 हजार रुपए का इनाम घोषित है. इन दोनों की तीन जिले की पुलिस खोज रही है. वहीं, पुलिस और कानून व्यवस्था के भय मुक्त श्याम पुनिया गैंग को मजबूत करने में जुटा हुआ है. इस गैंग के सदस्य सोशल मीडिया पर बंदूक के साथ फोटो और वीडियो शेयर करते हैं.

एसपी ग्रामीण राहुल बाहरठ का कहना है, ''सोशल मीडिया के माध्यम से इन बदमाशों की फोटो वीडियो-शेयर करने का मामला सामने आया है. ऐसे लोगों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा.''