गयाः तेलंगाना के राज्यपाल ईएसएल नरसिंहम रविवार को बोधगया पहुंचे थे. उन्होंने महाबोधि मंदिर में पूजा अर्चना की. वह अपने पत्नी और बेटे के साथ दो दिवसीय भ्रमण के लिए बोधगया पहूंचे. वहीं, सोमवार को पिंडदान के बाद उनकी तबियत अचानक बिगड़ गई. उन्हें इलाज के लिए मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया. हालांकि, उनकी तबियत अब स्थिर है.

खबरों के मुताबिक, तेलंगाना के राज्यपाल ईएसएल नरसिंहम दो दिवसीय दौरे पर बोधगया पहुंचे. रविवार को उन्होंने बोधगया मंदिर में पूजा अर्चन की. वहीं, सोमवार को पिंडदान पूजा की. लेकिन पूजा के बाद उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई.

तबीयत बिगड़ने के बाद फौरन उन्हें इलाज लिए मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया. मेडिकल टीम की देखरेख में उनका इलाज किया गया. हालांकि, कुछ देर बाद जब उनकी हालत ठीक हो गई तो उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. बताया जा रहा है कि वह बिहार से सीधा दिल्ली जाएंगे. और फिर वहां से हैदराबाद जाएंगे. हालांकि यह पता नहीं चल पाया है कि उनकी तबीयत किस वजह से बिगड़ी थी.

रविवार को उन्होंने महाबोधि मंदिर में काफी समय बिताया. उन्होंने गर्भगृह में बुद्ध की पूजा की और उन्होंने मंदिर के इतिहास व रखरखाव की जानकारी बीटीएमसी सचिव से ली.

जब राज्यपाल वहां से निकले तो उन्होंने विजिटर बुक में उन्होंने लिखा कि 'शाति का संदेश देने वाली भूमि पर आकर मेरे मन को असीम शाति मिली है. महाबोधि मंदिर आकर अविभूत हुए. मुझे अजीब सी कंपन महसूस हुई और मानसिक शाति की अनुभूति हुई.