महाराष्ट्र एंटी टेररिज्म स्क्वाड (एटीएस) ने असम के एक शख्स को गिरफ्तार किया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक गिरफ्तार किए गए शख्स ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को ई-मेल भेजा था. इस ई-मेल में शख्स ने भारतीय क्रिकेट खिलाड़ियों को मारने की धमकी दी थी.

आरोपी शख्स ने ईमेल 16 अगस्त को भेजा था. बीसीसीआई ने इस संबंध में पुलिस को सूचित किया था, जिसके बाद एटीएस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी.

मामले की शिकायत के बाद साइबर विशेषज्ञों ने आरोपी शख्स का पता लगाया. आरोपी शख्स का नाम ब्रज मोहन दास है. आरोपी शख्स असम के मोरीगांव के शांतिपुर-सहारनपुर इलाके में रहता है.  एटीएस की टीम उस लोकेशन की ओर रवाना हुई जहां आरोपी शख्स रहता था.

आरोपी शख्स को कोर्ट में गुरुवार को पेश किया गया, जिसके बाद कोर्ट ने आरोपी को 26 अगस्त तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

इन दिनों भारत टीम वेस्टइंडीज दौरे पर है, जहां गुरुवार से विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के तहत सीरीज खेली जाएगी. इससे पहले भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को खबर मिली थी कि वेस्टइंडीज दौरे पर टीम को खतरा है. हालांकि बाद में यह सूचना फर्जी पाई गई. इसके बाद भारतीय क्रिकेट टीम टीम की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी.

दरअसल, वह धमकी सीधे भारतीय टीम को न मिलकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को मिली थी. खबरों के अनुसार, पीसीबी को एक धमकी भरा ई-मेल मिला था, जिसमें भारतीय टीम के ऊपर हमला होने की आशंका जताई गई थी.

पीसीबी ने उस ई-मेल को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को भेजा था. बीसीसीआई ने इसकी सूचना गृह मंत्रालय को दे दी थी.

हालांकि आईसीसी और वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने इस तरह की खबर को अफवाह बताया. बीसीसीआई ने भी इन खबरों का खंडन किया था. बीसीसीआई सूत्रों ने कहा था कि भारतीय क्रिकेट टीम को कोई खतरा नहीं है. वेस्टइंडीज दौरे पर भारतीय टीम 3 अगस्त को गई और 3 सिंतबर तक रहेगी.