अमेरिकी टेक कंपनी Google अपने सर्च ऐल्गोरिद्म में बदलाव कर रही है. ये दरअसल न्यूज सर्च के लिए है. कंपनी ने कहा है कि ऑरिजनल रिपोर्टिंग पर जोर देगी और इसे सर्च रिजल्ट में भी ऊपर रखेगी. इसके लिए कंपनी ने 10 हजार से ज्यादा ह्यूमन रिव्यूअर को नए इंस्ट्रक्शन्स दिए हैं.

ह्यूमन रिव्यूअर द्वारा मिले फीडबैक के जरिए गूगल अपने ऐल्गोरिद्म को ट्रेन करेगा जो सर्च रैंकिंग देता है. गूगल ने इस बदलाव को लेकर एक स्टेटमेंट भी जारी किया है.

गूगल ने कहा है, ‘आम तौर पर हम न्यूज रिजल्ट्स में लेटेस्ट और न्यूज स्टोरी का व्यापक वर्जन दिखाते हैं, हमने अपने प्रोडक्ट्स में ग्लोबली कुछ बदलाव किए हैं ताकि उन आर्टिकल को हाईलाईट किया जा सके जो ऑरिजनल हैं. ऐसे आर्टिकल्स Highly Visible Position पर ज्यादा समय तक रहेंगे’

हालांकि गूगल ने ये भी कहा है कि फिलहाल न तो ऑरिजनल रिपोर्टिंग का न तो कोई सटीक या निरपेक्ष परिभषा है और न ही कोई स्टैंडर्ड है जिससे ये समझा जा सके कि ये ऑरिजनल आर्टिकल है. अगल अलग न्यूजरूम्स और पब्लिशर्स के लिए ये अलग हो सकता है. इसलिए गूगल लगातार स्टोरी के लाइफ साइकल को समझने का काम करेगा.

गौरतलब है कि गूगल काफी पहले से इस तरह की खबरों को ऊपर रखता है जिनमें किसी टॉपिक को लेकर, खास कर ट्रेंडिंग, व्यापक कवरेज होती है. फॉलोअप आर्टिकल भी ऊपर रखे जाते हैं. गूगल के ब्लॉगपोस्ट में कुछ समस्याओं को लेकर भी बात कही गई है. कंपनी ने कहा है कि गूगल ह्यूमन रिव्यूअर्स से अब ये कहता है कि क्वॉलिटी रिपोर्ट्स को आधार बना कर उन्हें न्यूज में ऊपर रखें.