गाजियाबाद: देश में 1 सितंबर से नए यातायात नियम लागू हो गए हैं. नए यातायात नियमों के अनुसार जुर्माने की राशि में भारी वृद्धि कर दी गई है. जैसे हेलमेट नहीं पहनने पर 2000 रुपये का जुर्माना, इंश्योरेंस नहीं होने पर 5000 जुर्माना, प्रदूषण के कागजात न होने पर 10000 तक के जुर्माने का प्रावधान किया गया है. पिछले दिनों देश के अलग-अलग हिस्सों से आम जनता से भारी जुर्माने की वसूली की खबरें आईं जिसके बाद सरकार को सर्कुलर तक जारी करना पड़ा कि केवल वाहन चेकिंग के नाम पर वाहनों को न रोका जाए.

यातायात नियमों में की गई जुर्माने की भारी वृद्धि विरोध में आज समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय पर भिक्षाटन किया. सपा कार्यकर्ता अभिनव सिंह के नेतृत्व में भिक्षाटन किया गया.भिक्षाटन की राशि एसडीएम के माध्यम से सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को भेजने का ऐलान सपा कार्यकर्ताओं ने किया.भिक्षाटन कार्यक्रम के दौरान एक दारोगा ने भी भिक्षा दी जो कि चर्चा का विषय बना रहा.चूंकि दरोगा एक सरकारी कर्मचारी है ऐसे में सरकार के नियमों के विरुद्ध उसके भिक्षा दिए जाने पर लोगों तरह-तरह की चर्चा करते नजर आए.

वहीं, दूसरी ओर पुलिस अधीक्षक डॉ अरविंद चतुर्वेदी ने चालान को लेकर लोगों से अपील किया कि हेलमेट पहन कर वाहन चलाएं और चेकिंग स्थल पर इधर उधर ना भागे जिससे कभी भी कोई अपनी घटना हो सकती है. उन्होंने कहा कि जितना आपका चालान कटेगा उतनी ही राशि या कुछ और बढ़ा देने पर आपका हेलमेट आ जाएगा. हेलमेट पहन कर आप खुद की रक्षा भी कर रहे हैं.