मोहाली: मेजबान भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टी20 मुकाबले का इंतजार बुधवार (18 सितंबर) को पूरा होने जा रहा है. इस दिन दोनों टीमें मोहाली के पीसीए स्टेडियम में शाम सात बजे से आमने-सामने होंगी. यह टी20 सीरीज का दूसरा मैच होगा. दोनों देशों के बीच सीरीज का पहला मैच बारिश के कारण धुल गया था. इस मैच में एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी थी.

पीसीए स्टेडियम में 1993 से इंटरनेशनल मुकाबले खेले जा रहे हैं. इस स्टेडियम में पहला मुकाबला भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच ही खेला गया था. तब भारत ने यह मैच 43 रन से जीता था. यह तो रही इस मैदान पर खेले गए पहले मुकाबले की बात. ओवरऑल मुकाबलों की बात करें तो भारत (Team India) ने इस मैदान पर 31 मैच (16 वनडे, 13 टेस्ट, 2 टी20 मैच) खेले हैं, जिनमें से उसे 19 में जीत मिली है. सात मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा और बाकी मैच ड्रॉ रहे.

भारत और दक्षिण अफ्रीका (South Africa) की टीमें बुधवार को पीसीए स्टेडियम में टी20 मैच खेलेंगी. अगर हम सिर्फ टी20 क्रिकेट की बात करें तो भारत इस मैदान पर कभी नहीं हारा है. उसने यहां दो टी20 मैच खेले हैं. उसने यहां 2009 में श्रीलंका और 2016 में ऑस्ट्रेलिया को हराया था. दिलचस्प संयोग यह है कि भारत ने यहां खेले गए दोनों मैच छह विकेट से जीते हैं. दक्षिण अफ्रीका मोहाली में पहला टी20 मैच खेलेगा. इसलिए उसे यहां पहली जीत की तलाश रहेगी.

मोहाली के स्टेडियम में टी20 मैच का सबसे बड़ा स्कोर भारत के ही नाम है. उसने 12 दिसंबर 2009 को श्रीलंका के खिलाफ 211 रन बनाए थे. इसी मैच में श्रीलंका ने 206 रन बनाए थे. भारत ने 207 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 211 का रिकॉर्ड स्कोर बनाया था. इस मैदान पर सबसे छोटा स्कोर पाकिस्तान (158/5) के नाम है.

मोहाली में टी20 मैच का सबसे बड़ा निजी स्कोर विराट कोहली के नाम है. उन्होंने 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 82 रन की नाबाद पारी खेली थी. मार्टिन गप्टिल (80) इस मैदान के दूसरे टॉप स्कोरर हैं. वीरेंद्र सहवाग यहां 2009 में 64 रन की पारी खेल चुके हैं.

इस मैदान पर टी20 क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के जेम्स फॉकनर के नाम है. उन्होंने यहां छह विकेट लिए हैं. भारतीय गेंदबाजों में युवराज सिंह का प्रदर्शन यहां सबसे बेहतरीन रहा है. उन्होंने पीसीए स्टेडियम में चार विकेट झटके हैं.