लंदनः अहिंसा के पुजारी और शांति के प्रतीक महात्मा गांधी (1869-1948) की 150 वीं वर्षगांठ पर भारत सरकार ने फिनलैंड सरकार को महात्मा गांधी की एक आदमकद प्रतिमा भेंट की जिसका अनावरण एलोट्रिया पार्क (एलोट्रियनपिस्टो) में शुक्रवार 20 सितंबर को किया गया । मूर्ति का अनावरण भारत के विदेश मंत्री डॉ पी. जयशंकर, फ़िनलैंड के विदेश मंत्री पीका हाविस्तो और हेलसिंकी शहर के उप महापौर सुश्री पिया पकरिनन ने किया।

प्रतिमा को भारतीय मूर्तिकार गौतम पाल द्वारा बनाया गया है। यह कांस्य प्रतिमा 185 सेंटीमीटर ऊंची है और यह फिनिश 'बाल्टिक ब्राउन' ग्रेनाइट से बनी है। एलोट्रिया पार्क हेमेंती स्ट्रीट में स्थित है। पार्क का नाम एक सिनेमा अलोट्रिया के नाम पर रखा गया है जो 1950 और 1960 के दशक में चलता था। इस पार्क में एल्म और मेपल जैसे पेड़ लगाए गए हैं।

इस पार्क की एक विशेषता इसके प्रभावशाली चट्टान हैं जिनमें एक दीवार शामिल है और अपने उच्चतम बिंदु पर कुछ मीटर तक पहुंचती है। पार्क में, एक सपाट लॉन है जहाँ योग का अभ्यास करना संभव है। निकट भविष्य में कुछ बेंच को पार्क में जोड़ा जाएगा। बता दें कि महात्मा गांधी के सम्मान में दुनिया भर में उनकी वर्षगांठ मनाई जा रही है।

84 देशों में लगी बापू की 110 से अधिक मूर्तियां
भारत के स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले महात्मा गांधी ऐसे विरले महापुरुष हैं जिनकी पाकिस्तान, चीन, ब्रिटेन, अमेरिका और जर्मनी से लेकर अनेक अफ्रीकी देशों सहित 84 देशों में 110 से अधिक मूर्तियां लगी हुई हैं। विदेश मंत्रालय की वेबसाइट पर जारी आंकड़ों के अनुसार अमेरिका में बापू की 8 मूर्तियां हैं जबकि जर्मनी में ब्रिमेन शहर सहित उनकी 11 प्रतिमाएं उस देश में स्थापित हैं। बापू की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि रूस और कम्युनिस्ट देश चीन तक में उनकी मूर्तियां स्थापित हैं।