श्रीनगरः श्रीनगर संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत मिले विशेष दर्जे को खत्म किए जाने के बाद घाटी की स्थिति के आकलन के लिए शनिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने यहां लालदेद अस्पताल का दौरा किया और मरीजों से बात की। राज्यसभा में विपक्ष के नेता जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त किये जाने के बाद शुक्रवार को पहली बार श्रीनगर पहुंचे थे।

श्रीनगर पहुंचने की उनकी पिछली तीन कोशिशें विफल रही थीं क्योंकि उन्हें हवाई अड्डे से लौटा दिया गया था। अधिकारियों के मुताबिक अपनी चार दिवसीय यात्रा के दूसरे दिन आजाद शनिवार दोपहर अस्तपाल गये और मरीजों से उनका हाल-चाल जाना।

अधिकारियों के अनुसार कांग्रेस नेता यहां पर्यटक स्वागत केंद्र भी गये और कश्मीर हाउसबोट ऑनर्स एसोसिएशन के सदस्यों के साथ बातचीत की। उच्चतम न्यायालय द्वारा राज्य का दौरा करने की अनुमति मिलने के बाद उनकी यह यात्रा संभव हो पायी।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई वाली पीठ ने सोमवार को जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री आजाद को लोगों से मिलने के लिए श्रीनगर, जम्मू, बारामूला और अनंतनाग की यात्रा करने अनुमति दी थी।कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने किया कश्मीर दौरा, लोगों से जाना हालचाल

श्रीनगरः श्रीनगर संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत मिले विशेष दर्जे को खत्म किए जाने के बाद घाटी की स्थिति के आकलन के लिए शनिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने यहां लालदेद अस्पताल का दौरा किया और मरीजों से बात की। राज्यसभा में विपक्ष के नेता जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त किये जाने के बाद शुक्रवार को पहली बार श्रीनगर पहुंचे थे।

श्रीनगर पहुंचने की उनकी पिछली तीन कोशिशें विफल रही थीं क्योंकि उन्हें हवाई अड्डे से लौटा दिया गया था। अधिकारियों के मुताबिक अपनी चार दिवसीय यात्रा के दूसरे दिन आजाद शनिवार दोपहर अस्तपाल गये और मरीजों से उनका हाल-चाल जाना।

अधिकारियों के अनुसार कांग्रेस नेता यहां पर्यटक स्वागत केंद्र भी गये और कश्मीर हाउसबोट ऑनर्स एसोसिएशन के सदस्यों के साथ बातचीत की। उच्चतम न्यायालय द्वारा राज्य का दौरा करने की अनुमति मिलने के बाद उनकी यह यात्रा संभव हो पायी।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई वाली पीठ ने सोमवार को जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री आजाद को लोगों से मिलने के लिए श्रीनगर, जम्मू, बारामूला और अनंतनाग की यात्रा करने अनुमति दी थी।