पेशावरः पाकिस्तान में अपने छात्रावास के कमरे में मृत मिली हिन्दू छात्रा को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। इस मामले में हिरासत में लिए गए आरोपियों में से एक का कहना है कि लड़की उससे प्यार करती थी और दोनों शादी करना चाहते थे। लरकाना जिले में स्थित बीबी आसिफा डेंटल कॉलेज में अंतिम वर्ष की छात्रा और सामाजिक कार्यकर्ता निमृता चांदनी का शव सोमवार को उसके कमरे से मिला था।

उसके गले में रस्सी लिपटी हुई थी और शव बिस्तर पर पड़ा था। पुलिस ने इस सिलसिले में अभी तक चांदनी के दो सहपाठियों सहित 32 लोगों को हिरासत में लिया है। ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून' की खबर के अनुसार, मेहरान अब्रो का दावा है कि चांदनी उससे प्यार करती थी और दोनों शादी करना चाहते थे। डेंटल कॉलेज के एक प्रोफेसर ने भी दावा किया है कि चांदनी अपनी निजी जिन्दगी में किसी बात को लेकर परेशान थी और उनसे कई बार बात भी की थी। उनसे बात करने के दौरान वह रोई भी।

उन्होंने बताया कि चांदनी ने कहा था, ‘‘मुझे इस झमेले से बाहर निकलने के लिए हिम्मत चाहिए।'' लेकिन प्रोफेसर का कहना है कि चांदनी ने कभी अपनी परेशानी की वजह उन्हें नहीं बताई। खबर के अनुसार, पुलिस ने वसिम मेमन नामक व्यक्ति से भी पूछताछ की है और वह चांदनी के साथ प्रेम में दिलचस्पी रखता था।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मसूद बंगश ने इस संबंध में चांदनी के परिवार से संपर्क पर विश्वविद्यालय के कुलपति के खिलाफ मामला दर्ज कराने के लिए कहा है।जिस वक्त चांदनी के दोस्तों को उसका शव मिला, छात्रावास का कमरा भीतर से बंद था।ऐसे में पुलिस अभी तय नहीं कर सकी है कि यह आत्महत्या का मामला है या उसकी हत्या की गई।