सिंगापुरः सिंगापुर में एक भारतीय को चांगी हवाईअड्डे में यात्रियों के सोने से भरे बैगों का वजन कम करके बताने के लिए भारत के ही एक व्यक्ति को रिश्वत देने के जुर्म में आठ सप्ताह की कैद की सजा सुनाई गई है। यह सोना भारत ले जा कर बेचने के लिए था। स्ट्रेट्स टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार खाद्य प्रसंस्करण कंपनी में प्रबंधक के पद पर काम करने वाले गोपाल कृष्ण राजू ने पटेल हितेश कुमार चंदूभाई को 581 डॉलर की रिश्वत दी थी।

चंदूभाई हवाई अड्डे पर साजोसामान सेवा प्रदाता यूबीटीएस के कस्टमर सर्विस एसोसिएट के पद पर काम करता था। उसे 2016 में जनवरी से अक्टूबर के बीच बैगों का वजन कम करके दर्ज करने के लिए रिश्वत दी गई थी। कार्यक्षेत्र में पटेल की जिम्मेदारी टाइगर फ्लाइट्स के लिए बोर्डिंग गेट्स में और चेक इन काउंट्स में यात्रियों की मदद करना था। पटेल की यह हरकत उस वक्त सामने आई जब सिंगापुर एयरपोर्ट टर्मिनल सर्विस ने एक रिपोर्ट सामने आने के बाद आंतरिक जांच कराई।

दरअसल पिछले वर्ष 13 जुलाई को एक समाचार पत्र में एक रिपोर्ट आई थी कि चांगी हवाईअड्डे पर बैगेज की दलाली हो रही है। इसके बाद पटेल को रिश्वत लेने के जुर्म में इस साल अप्रैल में आठ सप्ताह की कैद की सजा सुनाई गई थी। राजू ने पिछले शुक्रवार को अपना जुर्म स्वीकार कर लिया था।