तंदुरुस्ती हजार नियामत होती है। बाकी पत्रकार अपनी सेहत को लेकर चाहते हुए भी संजीदा नहीं हो पाते। फिर भी कुछ पत्रकार हैं जो काफी फिटफाट रहते हैं। यहां पत्रकारों की सेहत का जिक्र इस लिए के अब से कुछ दिन पेले तलक टीटी नगर स्टेडियम के हाईटैक जिम में पत्रकारों को निशुल्क वर्कआउट का मौका मिलता था। एक खास वक्त में पत्रकार वहां जाते और आधा एक घंटा जिम में वर्कआउट करके लौट आते। बाकी गुजिश्ता दिनों ये व्यवस्था बंद कर दी गई। अब पत्रकारों को वहां फ्री में प्रवेश नहीं मिलता। युवा पत्रकार संघ ने इस मामले की गंभीरता को समझा और टीटी नगर स्टेडियम के जिम में पत्रकारों का निशुल्क प्रवेश शुरु करने के  इंतजाम को बहाल करने की कोशिशें शुरु कर दीं। संघ के कार्यकारी अध्यक्ष ह्दयेश धारवार और दिनेश शुक्ला के मुताबिक आज ही खेल मंत्री जीतू पटवारी को ज्ञापन दिया जा रहा है। हम उनसे मांग करेंगे कि सभी अधिमान्य और गैर अधिमान्य पत्रकारों को जिम में वर्कआउट का मौका दिया जाए। इसके अलावा स्टेडियम के इन डौर और आउटडौर गैम्स में भी तमाम सहाफियों को खेलने का मौका मिले। पत्रकार चाहते हैं कि इसके लिए अधिमान्यता कार्ड वेलिड हो और जिनके पास अधिमान्यता नहीं है उन्हें खेल मेहकमें से कार्ड जारी किए जाएं।